add by google

add

बरेली के 62 ट्रकों से ढोया था खाद्यान्न घोटाले का अनाज

 



बरेली | प्रदेश के सबसे बड़े खाद्यान्न घोटले की आंच बरेली तक भी पहुंची है। घोटाले के दौरान बरेली क्षेत्र के 62 ट्रकों से अनाज ढेया गया था। प्रकरण की जांचकर खेहे विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) की जांच में यह खुलासा सामने आया है। 57 ट्रकों को शाहजहापुरगोदामसे औरपांच ट्रकोंको बदायूकेगोदामों से अनाज का परिवहन में दर्शाया गया था। एसआइटी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बरेली आरटीओ कार्यालय को इन ट्रकों के रजिस्ट्रेशन नंबर की सूची भेजकर तत्कालीन मालिकों के नाम पते और विवरण मांगा है। मामला एसआइटी का होने पर आरटीओ दफ्तर पुराने रिकॉर्ड खंगालने में जुटगया है।
सूबे से लेकर राष्ट्रीय स्तरतक चर्चा में रहे हजारों करोड़ रुपये का खाद्यान्न
घोटाला 2004 में हुआ था। तब प्रदेश में समाजवादी पार्टा की ही सरकार थी और
पर खाद्यान्न का कागजों पर तो परिवहन दिखाया गया था। जबकि जिन स्थानों पर अनाज उतारकर भंडारण दर्ज था, वहां अनाज ही नहीं था। कागजों पर यह अनाजस्थानांतरण और भंडारण वर्ष 2004-05 में और 2005-06 के वित्तीय सत्र में दर्ज था। यह अनाज अंत्योदय अन्नयोजना, जवाहररोजगार योजना और बीपीएल परिवारों को बांटने के लिए आया था, लेकिन कागजों में हेरफेर कर इसे बाजार में बड़े आदृतियों से लेकर कारोबारियों तक पहुंचाया गया था। तत्कालीन मुख्यमंत्री ने एसआइटी को जांच सौंपी थी। पहली सूची में बदायूं से अनाज का परिवहन करने वाले 57 ट्रकों के रजिस्ट्रेशन नंबर हैं। इनसे 2004-05 व 2005-06 में परिवहन दिखाया गया है।
प्रकरण के बताए गए हैं।

Comments

add by google

advs