: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | बिसौली,रामलीला में कलाकारों ने किया सुग्रीव की मित्रता का मंचन

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | बिसौली,रामलीला में कलाकारों ने किया सुग्रीव की मित्रता का मंचन





 बिसौली |  बिसौली नगर में श्री प्राचीन रामलीला में चल रही रामलीला में रामलीला ड्रामेटिक क्लब हतसा के कलाकारों ने सुग्रीव मित्रता का मंचन किया गया। भगवान श्रीराम ने शरण में आए सुग्रीव की सहायता की। भगवान श्री राम ने शरणागत सुग्रीव के लिए बालि का वध कर दिया। बाली की भूमिका गिरीश मिश्रा, राम की जितेश मिश्रा, लक्ष्मण की हरिओम मारीच व रावण की ज्ञानेश शंखधार ने निभायी। सभी कलाकारों ने अपने अपने पात्रों का सजीव मंचन किया। इसके साथ ही रामलीला मैदान में लगा मेला भी अपने पूरे शबाब पर है। बच्चों के मनोरंजन के लिए मिक्की माउस और झूले आदि लगाए गए हैं। इस अवसर पर कृष्णकांत मिश्रा, अनुज कांत मिश्रा, शशिकांत शर्मा, राजेश ¨सह, अशोक शंखधार, मुकेश मिश्रा, ब्रजवासी जगतपाल, सुभाष राजोरिया गोपी वल्लभ आदि मौजूद थे। संचालन राजेंद्र मिश्र ने किया।

उझानी प्रतिनिधि के अनुसार रामलीला मंच पर जटायू मरण, शबरी कृपा, बालि वध व सुग्रीव मित्रता का सजीव मंचन किया गया। वही स्त्री पुरूष बच्चों की भीड़ लगी रही।

कादरचौक क्षेत्र पंचायत के गांव भूड़ा भदरौल में चल रही रामलीला में सांकेत कुंज नैमिषधाम के कलाकारों ने सुनीलाचार्य के मार्गदर्शन में जटायू मरण, शबरी कृपा, बालि वध व सुग्रीव मित्रता का सजीव मंचन किया। भगवान श्रीराम ने भिलनी के अथाह प्रेम में उसके झूठे बेर खाकर ऊंच-नीच की भावना को खत्म करने का संदेश दिया। इस मौके पर रामलीला अध्यक्ष रमेश चंद्र शर्मा, ग्रीश चंद्र शर्मा, सतीश चंद्र, रमेश चंद्र सक्सेना, रामनरेश उपाध्याय, वुद्धपाल राठौर, कल्लू खां, हरप्रसाद बघेल, गोकरण बघेल, सावन गौड़ आदि का विशेष सहयोग रहा।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas