add by google

add

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | ककराला मांस भरी गाड़ियों से पुलिस टीम को रौंदने का प्रयास






 ककराला  | मुरादाबाद ले जाया जा रहा था गोवंशीय पशुओं का मांस बाल-बाल बची पुलिस टीम, महिला समेत तीन दबोचे
ककराला चौकी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गोवंशीय पशुओं के मांस से भरी दो लग्जरी गाड़ियां पकड़ लीं। तस्करों ने पुलिस टीम को भी रौंदने की कोशिश की। इसमें दरोगा और सिपाही बाल-बाल बच गए। पुलिस ने एक महिला समेत तीन लोगों को पकड़ लिया है। गिरफ्तार किए गए लोगों ने स्वीकार किया है कि वह मांस मुरादाबाद की एक फैक्ट्री में सप्लाई करते थे। लंबे समय से यह धंधा कर रहे थे। दोनों गाड़ियों से गोवंशीय पशुओं का करीब पांच क्विंटल मांस मिला है।
ककराला चौकी इंचार्ज राजीव कुमार को शनिवार सुबह मुखबिर से सूचना मिली कि उसहैत की ओर घसे दो लग्जरी गाड़ी। आ रही हैं। एक गाड़ी में एक महिला और बच्चा भी बैठे हैं। दोनों में गोवंशीय पशुओं का मांस भरा हुआ है। एसआई राजीव कुमार ने सिपाही सिपाही बाबू हुसैन पाशा, पवन कुमार, महिला सिपाही आरती के साथ मांस तस्करों की घेराबंदी कर ली। दो लग्जरी गाड़ियां ककराला पहुंचीं, तो पुलिस ने इनके चालकों से रोकने का इशारा किया। इस पर चालकों ने स्पीड बढ़ाते हुए पुलिस टीम को ही रौंदने की कोशिश की। इसमें दरोगा और आरक्षी बाल-बाल बचे।
बाद में पुलिस ने पीछा करके दोनों गाड़ियों को घेर लिया। तलाशी लेने पर दोनों से गोवंशीय पशुओं का करीब पांच क्विंटल   मांस बरामद हुआ। कार में कुल्हाड़ी, छुरा और तराजू भी मिले। पुलिस ने अब्दुल कदीर पुत्र जाकिर निवासी ब्लाकउददीन थाना भगतपुर जिला मुरादाबाद, आलम पुत्र हबीबुल निवासी रहमतनगर थाना कटघर जिला मुरादाबाद, महिला तबस्सुम जहां पत्नी सफी निवासी मियां कालोनी रोड थाना कटघर जिला मुरादाबाद को गिरफ्तार कर लिया। तबस्सुम के साथ उसका दो साल का बेटा भी था। खबर मिलने पर सीओ दातागंज श्योराज सिंह भी पहुंच गए। गिरफ्तार तस्करों ने बताया कि मांस की सप्लाई मुरादाबाद की एक मांस फैक्ट्री को करते हैं। पुलिस ने सभी को गोवध निवारण अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया है।

अब तस्करी में महिला और बच्चों का इस्तेमाल
अलापुर। पुलिस को चकमा देने के लिए लग्जरी गाड़ियों से मांस तस्करी का धंधा तो लंबे समय से चल रहा है, लेकिन तस्करों ने महिला और बच्चों को साथ लेकर चकमा देने का नया तरीका अपनाया है।
पिछले महीने बिसौली पुलिस ने गोवंशीय पशुओं के मांस से भरी लग्जरी गाड़ी पकड़ी थी। इसमें एक मांस तस्कर के साथ गाड़ी में एक महिला और उसका तीन साल का बेटा भी पकड़ा गया था। अलापुर में तस्करों के साथ महिला और बच्चे के पकड़े जाने का दूसरा मामला है। लग्जरी गाड़ियों में महिलाओं और बच्चों के होने पर पुलिस को आसानी से शक नहीं होता। गई बार मुखबिर से पुख्ता सूचना मिलने पर भी पुलिस महिला और बच्चों को देखकर चकरा जाती है।

मामले में रिपोर्ट दर्ज कर तस्करों को जेल भेज दिया गया है। सभी तस्करों ने स्वीकार किया है कि वह मांस की सप्लाई मुरादाबाद की एक मांस कंपनी को करते थे। मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Comments

add by google

advs