: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | सीने में चोट लगने से हुई सुरेंद्र की मौत

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | सीने में चोट लगने से हुई सुरेंद्र की मौत





मुजरिया  | मुजरिया थाना क्षेत्र के गांव कौल्हाई में युवक की हत्या कर शव फेंके जाने के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद परिजनों के आरोपों को बल मिला है तो बीमारी से मौत बताने वाली पुलिस बैकफुट पर आ गई है। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने मौत की वजह पुष्ट करते हुए बताया है कि उसका फेफड़ा और लीवर फटना मौत का कारण बना। गंभीर चोटों की वजह से हुई मौत की बात सामने आने के बाद भी पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया है।

गत दिवस मुजरिया थाना क्षेत्र के गांव कौल्हाई निवासी 32 वर्षीय सुरेंद्र पुत्र मलखान की ससुराल वाले उसका शव घर के बाहर फेंककर फरार हो गए थे। परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी तो मौके पर पहुंची पुलिस ने हत्या की बात दबाने को बीमारी से मौत की बात कहना शुरू कर दी। हालांकि परिजनों ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए हत्या करने की तहरीर पुलिस को दी लेकिन पुलिस ने उस तहरीर पर मुकदमा दर्ज नहीं किया। पुलिस शुरुआत में पोस्टमार्टम कराने को भी राजी नहीं हो रही थी। इसी बीच मामला उच्चाधिकारियों तक पहुंचा तो फटकार खाने के बाद पुलिस ने पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम को भेजा। सोमवार को दोपहर बाद जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो डॉक्टर ने बताया कि उसकी मौत फेफड़ा और लीवर फटने से हुई है। शरीर के अलावा पेट के अंदर गंभीर चोटें उसकी मौत की वजह बनीं। पीएम रिपोर्ट आने के बाद परिजन थाने पहुंचे फिर भी पुलिस केस दर्ज करने में हीला-हवाली करती रही। इससे मृतक के परिजनों में पुलिस के प्रति आक्रोश है।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas