Budaun express is an online news portal & news paper news in Budaun .Badaun to keep you updateed with tha latest news of your own district covering

Breaking

October 24, 2016

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | यूपी में एक को परिवार दूसरे को कुर्सी, लेकिन हमें राज्य की चिंता : महोबा में मोदी





महोबा.नरेंद्र मोदी आज महोबा पहुंचे। मोदी ने कहा, 'बुंदेलखंड के ज्यादातर लोग गुजरात में रहते हैं। यूपी में कभी सपा तो कभी बसपा। उनकी दुनिया तो चलती रही लेकिन आपका कुछ नहीं हुआ। एक को परिवार की चिंता है तो दूसरे को कुर्सी की चिंता है। लेकिन हमें यूपी की चिंता है।' बुंदेलखंड में पानी की कमी के कारण मिट्टी सूखी...
 मोदी ने कहा, "मैथिलीशरण गुप्त, वृंदावन लाल वर्मा को नमन करता हूं। हमें ऐसा आशीर्वाद मिले, ताकि बुंदेलखंड की सारी मुसीबतें दूर हो सकें।"
"यहां तो नदी भी है, गुजरात में तो नर्मदा और ताप्ती ही है।"
"हमने कोशिश की। 15 साल के परिश्रम के बाद पानी का संकट दूर हुआ है।"
"जल प्रबंधन के अभाव में यहां मिट्टी सूखी है। किसान तबाह हो गया। अगर पानी का प्रबंध कर दिया तो यहां का किसान मिट्टी में से सोना उपजा सकता है।"
यहां के लिए एक काम का सपना अटलजी ने देखा था। बाद में ऐसे लोग आए जिनको अपनी चिंता तो रहती है, लोगों की चिंता नहीं रहती। नदियों को जोड़ने की योजना थी। जहां बाढ़ आती है, उनका पानी सूखी नदियों में जाएगा।"
"अटल जी का सपना था केन-बेतवा नदी को जोड़ने का। उमाजी के नेतृत्व में ये काम हो रहा है।"
 "बुंदेलखंड के पानीदार लोग हैं। उन्हें पानी दिया तो सब बदल देंगे। बुंदेलखंड के ज्यादातर लोग गुजरात में रहते हैं। मैं उनसे पूछता था किस बुंदेलखंड के हैं, मध्य प्रदेश वाले या उत्तर प्रदेश वाले। वे कहते- उत्तर प्रदेश वाले, क्योंकि वहां रोजगार नहीं होता।"
"यूपी में कभी सपा तो कभी बसपा। उनकी तो दुनिया चलती रही, लेकिन आपका कुछ नहीं हुआ। आपको सपा-बसपा के चक्कर से बाहर निकलना होगा।"
"जब चुनाव आता है तो बसपा वाले सपा पर आरोप लगाते हैं। लेकिन बसपा ने सत्ता में रहने के दौरान किसी सपा वाले को जेल भिजवाया था। आप अपनी बार लूटो, मैं अपनी बार लूटूंगा। सपा-बसपा में यही खेल चलता है।"
'हमें यूपी के लोगों की चिंता'
"आज भी देश में ईमानदार अफसर और पुलिस है। लेकिन इन्हें ताकत देने की जरूरत होती है। इस चुनाव में यूपी का पिक्चर बहुत साफ है। जैसे लोकसभा चुनाव में आपने पूर्ण बहुमत दिया, वैसा ही अब कीजिए। मैं यूपी और देश की जनता का आभारी हूं, जो उन्होंने दिल्ली में पूर्ण बहुमत की सरकार दी।"
- "एक तरफ वो लोग हैं जिन्हें परिवार बचाने की चिंता हैं। दूसरी तरफ वो लोग हैं जिन्हें कुर्सी की चिंता है। तीसरी ताकत हम हैं जिन्हें यूपी बचाने की चिंता है। अब फैसला आपको करना है। खासतौर पर नौजवानों को फैसला करना है। आपको अपने भाग्य का विचार करना है।"
- "आपके पूर्वजों ने सपा-बसपा के बारे में सोचा होगा। लेकिन आप यूपी और बुंदेलखंड की चिंता कीजिए। कुछ मुठ्ठी भर लोग आपका हक छीन रहे हैं। यहां के माफिया से भिड़ने की ताकत सपा-बसपा में नहीं है। यहां जमीन सुधार के नहीं, जमीन हड़पने के काम होते हैं।"
'एमपी ने केंद्र के पैसे का सही इस्तेमाल किया'
- "एमपी का बुंदेलखंड आगे है, क्योंकि वहां सरकार ने केंद्र के पैसे का पूरा उपयोग किया। एमपी में सरकार ने 90 फीसदी धन का उपयोग किया। लेकिन यहां यूपी में 40 फीसदी ही धन का उपयोग हुआ। और कोई हिसाब नहीं है। पैसा कहां गया? कुछ पता नहीं।"
- "एमपी सरकार ने 47 हजार कुओं का काम पूरा किया। दरअसल, सपा बसपा के खिलाफ और बसपा सपा के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाती।"
- "यूपी ने देश को अनेक प्रधानमंत्री दिए। मुझे भी इसी प्रदेश ने बनाया। इस प्रदेश का मुझ पर हक है। मुझे आपका कर्ज चुकाना है। मोदी राज करने नहीं, सेवा करने पैदा हुआ है।"
-"'माताओं-बहनों की रक्षा होनी चाहिए। हिंदू अगर गर्भ में बेटी को मारे तो उसे जेल होनी चाहिए। मुस्लिम बहनों को उनका हक मिलना चाहिए।"
- "सुप्रीम कोर्ट ने तलाक पर हमसे पूछा। हमने कहा, संप्रदाय के आधार पर भेदभाव नहीं होना चाहिए। कुछ पार्टियां वोट के चक्कर में मुस्लिम बहनों के साथ अन्याय कर रही हैं।"
- "मीडिया से अनुरोध है कि वो विद्वान मुसलमानों को बुलाएं, क्योंकि मुसलमानों में अच्छे लोग हैं। दिल्ली में बैठे लोगों को समझ में आ गया है कि यूपी ने अपनी किस्मत बदलने का फैसला कर लिया है।"
बनारस में क्या बोले मोदी?
- मोदी ने मोदी ऐप की जानकारी दी। नंबर बताया 1922। लोगों से कहा- सेना को संदेश भेजें।
- मोदी ने कहा, 'सेना को अनुभव होना चाहिए कि उनके देशवासी उन पर कितना गर्व करते हैं। दुनिया के कई देशों में सेना को देखकर लोग ताली बजाकर स्वागत करते हैं। हमारे यहां विशिष्ट हालात में ही ये होता है। हमारे यहां भी यह नाता बना रहना चाहिए। मैंने देशवासियों और सेना को यही संदेश भेजा है।'
- 'हम काशीवालों ने छोटी दिवाली मना ली। 29 सितंबर को जब देश की सेना ने पराक्रम किया तो काशी झूम उठा था।'
- 'ये ऐसी सरकार है जो शिलान्यास भी करती है और उद्घाटन भी खुद ही करती है। 

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas