add by google

add

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | करवाचौथ:सजना है मुझे सजना के लिए






पति की दीर्घायु को रखा जाने वाला करवाचौथ के व्रत का स्वरूप अब बदलने लगा है। इसमें पूजन-अर्चन के साथ ही महिलाओं में शृंगार करने के प्रति काफी उत्साह रहता है। यही वजह है कि कॉस्मेटिक्स शॉप, मेहंदी सेंटर, ब्यूटी पार्लर पर विवाहिताओं की खासी भीड़ उमड़ रही है। ज्वैलरी शॉप पर भी खरीदारी हो रही है। इस खास दिन को सुहागिन यादगार बनाने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहतीं। वे रोजाना की अपेक्षा कुछ अलग नजर आना चाहती हैं, सो हर जतन कर रही हैं।
करवाचौथ से एक दिन पहले बाजार करवा, दिया, सींक, कैलेंडर, चावल, चूरा, समेत पूजन संबंधी सामिग्री की जमकर दुकानदारी हुई। वहीं, ब्यूटी पॉर्लर में महिलाएं मेहंदी लगवाने के साथ, ब्लीच, फेसियल, स्पा, नेल आर्ट, फोरहेड, चिन, थ्रेडिंग आदि कराती नजर आईं। ब्यूटी पॉर्लर्स में सोमवार से भीड़ कम नहीं हो रही है। महिलाओं में करवाचौथ को लेकर खासा उत्साह नजर आ रहा है।

शहर की ब्यूटीशियन रजनी मिश्रा का कहना है कि अब बदलाव आया है। महिलाएं पार्लर पर आ रही हैं। महिलाओं की सुविधा के लिए 399, 499, 599, 999, 1499 एवं 1999 रुपये के पैकेज हैं। इनमें फेसियल, स्पॉ, थ्रेडिंग, अपर लिप, फोरहेड चिन, नेल आर्ट, फेसियल, ब्लीच, टाइल्स स्पॉ, वैक्स आदि तमाम कार्य किए जाते हैं। इन पैकेज को लेकर 25 फीसदी की छूट भी पहले दी जा चुकी है।
ऐसे करें पूजन
पंडित गिरीश कुमार शर्मा का कहना है कि करवाचौथ का व्रत धारण करने वाली महिलाएं लाल वस्त्र पहनकर गौरी, गणेश, शिव और चंद्रमा की वंदना करें। गणेश जी को पीले फूल की माला, लड्डू और केले का भोग दें। चंद्रमा उदय होने के बाद रात 08:39 के बाद अर्घ्य दें। मिट्टी के गरबे में रोली से सतिया बनाएं। इसमें गंगाजल, दूध, गुलाब जल, केसर, मीठा डालें। रात में चलनी के प्रयोग से चंद्र दर्शन करें और चंद्रमा को अर्घ्य दें। करवाचौथ व्रत कथा सुनें। बड़ों और पति का आशीर्वाद लें।

Comments

add by google

advs