add by google

add

बरेली में पथराव, दो समुदायों की नई परंपरा पर बवाल





आला हजरत के उर्स में चढ़ाने के लिए आ रहीं चादरों के जुलूस का रूट बदलने पर फरीदपुर के गांव जेड़ में जमकर बवाल हुआ। दो समुदाय आमने-सामने आ गए और पथराव शुरू हो गया जिससे भगदड़ मच गई। तनातनी की खबर फैलते ही पुलिस और प्रशासन में खलबली मच गई। पुलिस ने किसी तरह जुलूस को हाईवे तक पहुंचाया। पथराव में दरोगा समेत दो ग्रामीण घायल हो गए।

भगदड़ में भी कुछ को चोटें आई हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डीआईजी, डीएम और एसएसपी भी मौके पर पहुंचे, तब तक मामला शांत हो गया था। पुलिस ने 11 नामजद और 40 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर प्रधान कृष्णपाल यादव समेत सात लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। तनाव के चलते गांव में फोर्स तैनात कर दी गई है।

बरेली में तीन दिवसीय आला हजरत का उर्स चल रहा है। इसमें आसपास के गांवों से मुस्लिम समुदाय के लोग चादर चढ़ाने के लिए जुलूस की शक्ल में शहर पहुंच रहे हैं। फरीदपुर के ग्राम जेड़ में शुक्रवार को सुबह करीब 7.30 बजे उर्स में चादर चढ़ाने के लिए लोगों घरों से जुलूस की शक्ल में निकले। ये गांव लंबाई में बसा है। गांव के दोनों ओर मुस्लिम आबादी है, बीच में दूसरे समुदाय के लोग रहते हैं। डीजे बजाते हुए चादर का जुलूस ले जाया जा रहा था।

Comments

add by google

advs