add by google

add

नमक या आटा मिले महंगा तो इस नंबर पर करें शिकायत




नोएडा। नोटबंदी के बाद नमक महंंगा होने की अफवाह के फैलते ही किराना बाजार में दुकानदारों ने स्टॉक भर लिया है। इनमें से कुछ अब भी नमक को कर्इ गुना मंहगे दाम पर बेच रहे हैंं। एेसे दुकानदारों को सबक सिखाने आैर पब्लिक को राहत दिलाने के लिए खुद डीजीपी ने अपने नंबर के साथ ही एक हेल्पलाइन नंबर आैर र्इमेल आर्इडी साझा की है। उन्होंने पब्लिक से आग्रह किया है की अगर कोर्इ भी दुकानदार तय सामान की कीमत से अधिक रुपये वसूलता है तो आप इस नंबर पर जानकारी दे सकते हैं, जिससे आरोपी दुकानदार पर तुरंत कार्रवार्इ की जा सके।कहीं कालेधन की पूर्ति के लिए तो नहीं उड़ार्इ जा रही अफवाहपांच सौ व एक हजार रुपए के नोट की बंदी से किराना बाजार पर भी खासा असर पड़ा है। थोक भाव में किराना सामान स्टोर चलाने वाले कर्इ दुकानदार अपने नोटों को नहीं दिखा पा रहे हैंं। यह कहना गलत नहीं होगा की अपने इसी कालेधन को ठिकाने लगाने के लिए कुछ दुकानदार नमक आैर चीनी जैसी जरूरी सामग्रियों के महंंगे होने की अफवाह उड़ा रहे हैंं।तय कीमत से ज्यादा सामान मिलने पर डीजीपी को देंं सूचनाडीजीपी ने यूपी में हो रही सामान के कालाबजारी आैर महंंगे होने की अफवाहों पर विराम लगाने के लिए हेल्पलाइन नंबर 0522-220604 जारी किया है। उन्होंने आम जन की मदद के लिए एेसा किया है। साथ ही सभी से आग्रह किया है कि किसी भी बाजार में तय कीमत से अधिक में सामान मिलने पर आप इन नंबर पर सूचना दें। इससे पुलिस मौके पर पहुंचकर आरोपी दुकानदार के खिलाफ कार्रवार्इ करेगी। बता दें कि हाल ही में बाजारों से नमक के समाप्त होने की अफवाह उड़ी थी, जिसके बाद शहर के बाजारों में 400 रूपए किलो तक नमक बिक गया। हालांकि, इसके तुरंत बाद प्रशासनिक स्तर कदम उठाते हुए लोगों के लिए एडवाइजरी जारी की गई। इसमें नमक की स्थिति को स्पष्ट किया गया। इसके बाद भी शहरों के कुछ दुकानदारों ने नमक के स्टॉक को जमा कर लिया है। वह अपना रुपया वसूल करने के लिए ग्राहक के नमक मांगने पर उसे देने से इंनकार कर रहे है।इन नंबरो आैर मेल आर्इडी पर दे सकते हैं शिकायत
इसी कालाबजारी को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन सर्तक है। ऐसे में यदि कोई भी दुकानदार महंगा नमक बेचता है तो उसकी शिकायत आप सीधे डीजीपी से 9454400101 व 0522-220604 फोन पर कर सकते है। इसके अलावा dignic.in पर मेल कर शिकायत दे सकते हैंं।

Comments

add by google

advs