Budaun express is an online news portal & news paper news in Budaun .Badaun to keep you updateed with tha latest news of your own district covering

Breaking

November 7, 2016

मोदी ने ब्रिटिश पीएम से की मुलाकात, मे ने कहा- कारोबारियों का ब्रिटेन आना आसान करेंगे





नई दिल्ली. ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे ने नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। मे तीन दिन के भारत दौरे पर हैं। मे के साथ 40 बिजनेस डेलिगेट्स भी आए हुए हैं। सोमवार को मे ने टेक समिट में कहा, "ब्रिटेन की इकोनॉमी के लिए भारतीय इन्वेस्टमेंट मददगार साबित हो रहा है। हम ऐसा सिस्टम बनाने जा रहे हैं, जिससे भारतीय कारोबारियों को ब्रिटेन आने में सहूलियत होगी।" मोदी ने कहा, "ब्रिटेन का भारत से गहरा नाता रहा है। भारत ब्रिटेन में तीसरा सबसे बड़ा इन्वेस्टर है। दोनों देश मिलकर चुनौतियों का सामना करेंगे।" मोदी और मे के बीच कई मुद्दों पर बातचीत होगी।थेरेसा का भारत आना सम्मान की बात...

पीएम मोदी ने सोमवार को टेक समिट में कहा- "थेरेसा का भारत में स्वागत है। उनका यहां आना सम्मान की बात है।"
 "उन्होंने यूरोपियन यूनियन से बाहर दौरे के लिए भारत को पहले देश के तौर पर चुना है। यह भी वाकई सम्मान की बात है।"
 "भारत ब्रिटेन में तीसरा सबसे बड़ा इन्वेस्टर है। अब भारत भी इन्वेस्टमेंट और बिजनेस को लेकर काफी ओपन है।"
 "मेरा मानना है कि साइंस और टेक्नोलॉजी भारत और ब्रिटेन के रिश्तों को बेहतर बनाने में मदद करेंगे।"
 "हेल्थकेयर, एनर्जी और टेक्नोलॉजी कुछ ऐसे सेक्टर हैं, जो भारत और ब्रिटेन के बीच बिजनेस को बढ़ावा दे सकते हैं।"
 "भारत और यूके को मिलकर रिसर्च करनी चाहिए, ताकि चुनौतियों का मुकाबला किया जा सके।"
 "दोनों देश क्लीन एनर्जी के लिए एक आरएंडडी सेंटर बनाने पर राजी हुए हैं।"
 "मुझे लगता है कि मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट दोनों देशों के रिश्तों में एक अहम रोल निभा सकता है।"
क्या बोलीं थेरेसा मे?
 मे ने कहा, "ब्रिटेन भारत के लिए रजिस्टर्ड ट्रैवलर स्कीम लागू करेगा। इसके तहत इंडियन बिजनेसमेन को यूके आने में आसानी होगी।"
 "ब्रिटेन में हम इकोनॉमिक और सोशल रिफॉर्म्स पर काम कर रहे हैं। भारतीय इन्वेस्टमेंट ब्रिटेन की इकोनॉमी के लिए मददगार साबित हो रहा है।"
"भारत और ब्रिटेन के रिश्तों में काफी क्षमता है। दोनों देशों के बीच एक खास किस्म की बॉन्डिंग है।"
द्विपक्षीय बातचीत में ये मुद्दे अहम

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas