Budaun express is an online news portal & news paper news in Budaun .Badaun to keep you updateed with tha latest news of your own district covering

Breaking

December 31, 2016

मुलायम ने 20 घंटे में ही वापस लिया अखिलेश-रामगोपाल को पार्टी से बाहर करने का फैसला, शिवपाल ने खुद किया एलान




लखनऊ.1992 में अपने गठन के बाद सबसे बुरे दौर से गुजर रही समाजवादी पार्टी को मुलायम सिंह यादव शनिवार को संभालते दिखे। मुलायम ने अखिलेश और रामगोपाल यादव को पार्टी से बाहर करने का फैसला 20 घंटे बाद ही वापस ले लिया। इसका एलान भी खुद मुलायम ने नहीं, बल्कि शिवपाल ने पहले ट्वीट कर किया। वही शिवपाल जिन्होंने शुक्रवार को बीच प्रेस कॉन्फ्रेंस में अखिलेश को बाहर करने की बात नेताजी के कान में कही थी। मुलायम-शिवपाल के इस यू-टर्न के पीछे वजह आजम खान रहे, जो सुलह की कोशिशें करा रहे थे। इससे पहले, अखिलेश से मिलने सपा के 224 में से 200 विधायक पहुंचे। जबकि मुलायम से मिलने सिर्फ 17 विधायक आए थे। मीटिंग खत्म होने से पहले ही Dainikbhaskar.comने बता दिया था कि मुलायम क्या फैसला लेने वाले हैं। 6 बड़े डेवलपमेंट...
1#मुलायम सिंह यादव ने शनिवार को 393 कैंडिडेट्स की मीटिंग बुलाई। लेकिन उनके यहां सिर्फ 17 विधायक और 103 उम्मीदवार पहुंचे। बाद में यह मीटिंग रद्द हो गई।
2#अखिलेश के घर हुई मीटिंग में 224 में से 207 विधायक शामिल हुए। 37 एमएलसी और 53 कैंडिडेट्स भी शामिल हुए।
3#इसके बाद अखिलेश मुलायम से मिलने पहुंचे। करीबी सूत्रों ने Dainikbhaskar.com को बताया कि आजम खान ने सुलह की कोशिशें कीं तो मुलायम सिंह अखिलेश का निष्कासन वापस लेने को राजी होते दिखे।
4# वहीं, जब शिवपाल को मुलायम-अखिलेश-आजम की मीटिंग के लिए बुलाया गया तो उन्होंने फोन पर कहा, 'अब क्या बचा है? हमारी तो इज्जत मिट गई।'
5# मुलायम, अखिलेश, शिवपाल और आजम की मीटिंग खत्म हुई। बाद में शिवपाल सामने आए। कहा- हम लोग नेताजी से मिलने गए थे। नेताजी का मुझे आदेश मिला है कि अखिलेश और रामगोपाल यादव को बहाल किया जाता है और उनका निष्कासन रद्द किया जाता है। हम सांप्रदायिक ताकतों से लड़ेंगे और उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनाएंगे। सब बातचीत करके प्रत्याशी तय करेंगे और 2017 के चुनाव में उतरेंगे। हम सब लोग बैठकर बातचीत करके लिस्ट पर फैसला लेंगे।
6# समाजवादी पार्टी की 1 जनवरी को लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क में होने वाली नेशनल एक्जिक्यूटिव मीट कैंसिल नहीं हुई है। रामगोपाल ने कहा कि तय कार्यक्रम के मुताबिक ही सम्मेलन होगा।
यहां से शुरू हुआ था विवाद
- बीते हफ्ते मुलायम ने अपने 325 कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी की। इसमें से कई नाम अखिलेश को नापसंद थे। अखिलेश ने फिर 235 कैंडिडेट्स की अपनी नई लिस्ट जारी कर दी।
- माना जाता है कि अखिलेश-रामगोपाल मिलकर शिवपाल को बाहर करने की तैयारी थे। इसकी भनक मुलायम-शिवपाल को लग गई। मुलायम ने रामगोपाल को निकालने का फैसला ले लिया। पर शिवपाल ने अखिलेश का नाम भी जुड़वा दिया। दोनों 6 साल से लिए पार्टी से निकाल दिए गए थे।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas