: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : 30 देशों की तरह भारत में चलेंगे प्लास्टिक नोट, जानिए इनकी 6 खूबियां!

30 देशों की तरह भारत में चलेंगे प्लास्टिक नोट, जानिए इनकी 6 खूबियां!





नोटबंदी के बाद से कैश की तंगी झेल रही जनता के लिए अच्छी खबर है कि सरकार जल्द ही प्लास्टिक के नोट लाने की तैयारी में है। शुक्रवार को संसद में वित्त राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने जानकारी दी है कि इसकी तैयारी भी शुरू कर दी गई है और मटीरियल की खरीद भी शुरू हो गयी है। मेघवाल ने कहा कि प्लास्टिक या पॉलिमर सबस्ट्रेट बेस्ड नोट छापने का फैसला लिया गया है और रिजर्व बैंक लंबे समय से फील्ड ट्रायल के बाद प्लास्टिक करंसी लॉन्च करने की योजना बना रहा है।

अभी 30 देशों में चलती है प्लास्टिक करंसी
बता दें कि फ़िलहाल दुनियाभर के 30 देशों में प्लास्टिक करंसी चलती है। प्लास्टिक नोट चलाने वाले देशों में ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया, कनाडा, फिजी, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, पापुआ न्यू गिनी, रोमानिया और वियतनाम भी शामिल हैं। सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया में जाली नोटों की मुश्किल से निपटने के लिए प्लास्टिक करंसी सर्कुलेशन में लाई गई थी। असल में ऑस्ट्रेलिया में भी नकली नोटों के चलते सरकार को वित्तीय घाटों का सामना करना पड़ रहा था इसलिए साल 1988 में ब्लैक मनी पर नकेल कसने के लिए प्लास्टिक के नोट चलन में लाए गए।

क्या कहा सरकार ने
वित्त राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने संसद में इस बात की घोषणा कर दी है कि जल्दी ही प्लास्टिक के नोट लाए जाएंगे। बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक काफी समय से प्लास्ट‍िक करेंसी लॉन्च करने की योजना बना रहा है। फरवरी 2014 में सरकार ने संसद को जानकारी दी थी कि 10 रुपये वाले एक अरब प्लास्ट‍िक नोट छापे जाएंगे और इनके फील्ड ट्रायल के लिए 5 शहर चुने गए हैं। ये शहर थे कोच्च‍ि, मैसूर, जयपुर, शिमला और भुवनेश्वर।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas