: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : बेटी की शादी पर एक बिजनेसमैन ने बेघर लोगों को तोहफे में दिए 90 मकान

बेटी की शादी पर एक बिजनेसमैन ने बेघर लोगों को तोहफे में दिए 90 मकान




जहां एक तरफ हम अक्सर सुनते हैं कि इस व्यापारी ने और इस राजनेता ने अपने बेटे या बेटी की शादी में करोड़ो खर्च किए वहीं दूसरी तरफ औरंगाबाद के रहने वाले एक व्यापारी ने जो किया है वो वाकई काबिलेतारीफ है।महाराष्ट्र के औरंगाबाद में उद्योगपति मनोज मुनोत ने अपनी बेटी श्रेया की शादी पर करोड़ों खर्च करने के बजाए उन पैसों से बेघर लोगों के लिए 90 मकान बनाकर उन्हें तोहफे में दे दिए।

मनोज ने पहले अपनी बेटी की शादी पर 70 से 80 लाख रुपए खर्च करने का विचार किया था लेकिन बाद में एक दोस्त की सलाह पर उन्होंने शादी में फिजूल खर्च करने की बजाए गरीब लोगों के लिए घर बनाने का फैसला किया। उन्होंने अपनी बेटी की शादी साधारण तौर पर की।वन रूम किचन वाले इन घरों को दो एकड़ जमीन पर दो महीने के अंदर तैयार किया गया, जिसमें करीबन 1.5 करोड़ रुपयों का खर्चा आया। मनोज ने लासूर स्थित अपनी 60 एकड़ जमीन में से 2 एकड़ जमीन पर बेघर लोगों के लिए कॉलोनी तैयार की।


  • अपने इस कदम पर मनोज का कहना है-

“इतिहास में ये एक नए अध्याय की तरह है और मुझे उम्मीद है कि इसी तरह से अन्य लोग भी आगे आएंगे। समाज के प्रति हमारी कुछ जिम्मेदारी है और हमने उसका पालन करने की एक कोशिश की है।”

दुल्हन बनी श्रेया ने भी अपनी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि वह अपने पिता के इस फैसले से खुश हैं और ये उनकी शादी का सबसे बेहतरीन तोहफा है।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas