: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : ...तो कैशलेस हो जाएंगी जिले की बैंक शाखाएं

...तो कैशलेस हो जाएंगी जिले की बैंक शाखाएं





नोटबंदी के बाद से जिले के लोगों को नोट एक्सचेंज करने और लेनदेन में सबसे आगे रहने वाली स्टेट बैंक की शाखाओं में यदि जल्द रुपये नहीं दिए गए, तो जिले में कैशलेस की किल्लत हो जाएगी, जिससे लोगों को रुपये मिलने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

जिले में पंजाब नेशनल बैंक लीड बैंक है। पीएनबी की मुख्य शाखा में अन्य शाखाओं का करेंसी चेस्ट होने के साथ सर्व यूपी ग्रामीण बैंक की 72 शाखाएं और आईडीबीआई बैंक समेत कई शाखाएं जुड़ी हुई हैं। इसमें पीएनबी और उससे जुड़ी बैंक शाखाओं में पहले से ही कैश की किल्लत चल रही है। इस दौरान जिले में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अधिकांश शाखाओं ने कैश का वितरण किया। इससे काफी हद तक लोगों को राहत मिलती रही, लेकिन एसबीआई के बैंक चेस्ट में केवल डेढ़ करोड़ के करीब ही कैश बचा है, जो शुक्रवार तक खत्म होने की उम्मीद है। वहीं, पीएनबी का कैश भी खत्म होने की कगार पर है। इन दोनों बैंकों का कैश खत्म होने से पहले आरबीआई या बैंक के क्षेत्रीय कार्यालयों से पर्याप्त धनराशि का इंतजाम नहीं किया गया, तो स्थित खतरनाक हो जाएगी। इस संबंध में एसबीआई की मुख्य शाखा के प्रबंधक मनोज कुमार ने कहा कि फिलहाल काम चल रहा है, लेकिन आगे दिक्कत हो सकती है। वहीं, लीड बैंक मैनेजर अनुराग रमन ने बताया कि यदि दो दिन के अंदर कैश नहीं मिला तो कैश वितरण मुश्किल हो जाएगा।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas