: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : फिर बैंक तथा बाजार में आ सकते हैं एक हजार रुपए के नए नोट :गंगवार

फिर बैंक तथा बाजार में आ सकते हैं एक हजार रुपए के नए नोट :गंगवार






बरेली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पांच सौ तथा एक हजार के नोट बंद करने के फैसले के बाद पांच सौ रुपए के नये नोट बाजार व बैंकों में आ गए हैं। अब इंतजार है, एक हजार रुपए के नए नोट का।
केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री संतोष गंगवार का मानना है कि एक हजार रुपए के नए नोट फिर आ सकते हैं। कब तक अभी इसको लेकर कोई फैसला नही किया गया है। इसके बाद भी उनको यकीन है कि एक हजार रुपए के नए नोट आने में बहुत विलंब नहीं होगा।
बरेली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद संतोष गंगवार ने कहा कि बाजार में दो हजार और पांच सौ के नए नोट आ गए हैं। जल्द ही एक हजार का नया नोट भी बाजार में आ जायेगा। सरकार ने एक हजार के नए नोट न छापने का अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया है। नोटों की किल्लत जल्द ही दूर हो जाएगी। रिजर्व बैंक प्रति दिन क्षमता के मुताबिक करीब 25 हजार करोड़ रुपए छाप रहा है।
यह भी पढ़ें- आरबीआइ ने नकदी संकट के नाम बांटी 700 करोड़ की 'मैल'
वित्त राज्य मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि जनधन समेत जिन बैंक खातों में असामान्य तरीके से धन जमा हुआ है। उन पर सरकार की पैनी नजर है। ऐसे खाताधारकों को नोटिस जारी कर धन के स्रोत के बारे में पूछताछ की जायेगी। नोटों की किल्लत रहने वाली नहीं है। सभी जगह हालात सामान्य हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुरादाबाद से ऐलान किया था कि जल्द ही नोटों की किल्लत खत्म होगी और यह लोगों की आखिारी लाइन होगी।
यह भी पढ़ें- अचानक धन की कमी से फ्लाप हो रहीं भाजपा की सभी रैलियां: अखिलेश
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जिन लोगों का भी धन बैंक खातों में जमा है। उनका धन सुरक्षित है। लोग कैश निकालने में जल्दबाजी न करें। जितनी जरूरत है, उतना ही धन निकालें। 2000 और 500 के नोट लगातार छापे जा रहे हैं। जरूरत के मुताबिक नोट छापे जाएंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जीएसटी को लेकर दिल्ली में दो दिन तक बैठक हुई। जीएसटी लागू करने के लिए पूरी तैयारियां हो चुकी हैं। एक अप्रैल 2017 को देश भर में जीएसटी लागू हो जाएगा।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas