: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : LIVE: सपा में अब टिकट पर घमासान, समर्थक विधायकों के साथ CM अखिलेश की बैठक शुरू

LIVE: सपा में अब टिकट पर घमासान, समर्थक विधायकों के साथ CM अखिलेश की बैठक शुरू




यूपी चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी और मुलायम सिंह के कुनबे में अब टिकट बंटवारे को लेकर फिर लड़ाई छिड़ गई है. मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए सपा के 325 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की तो अखिलेश के कई समर्थकों का पत्ता साफ कर दिया. चाचा शिवपाल की पसंद को लिस्ट में देखकर सपा में फिर अंदरखाने लड़ाई शुरू हो गई है. सीएम अखिलेश ने अपने समर्थक विधायकों की बैठक बुलाई है. लखनऊ में ये बैठक शुरू हो चुकी है.

समर्थकों के टिकट कटने पर नाराजगी
इस बैठक में धर्मेंद्र यादव, अरविंद गोप और अभिषेक मिश्रा समेत तमाम समर्थक शामिल हो रहे हैं. इस बैठक में वे विधायक और मंत्री शामिल हो रहे हैं जिनके टिकट काट दिए गए हैं. अखिलेश ने बुधवार शाम भी तीन मंत्रियों और दर्जनों विधायकों के साथ लंबी मीटिंग की थी. बैठक के बाद एक विधायक ने कहा कि हम नेताजी के निर्देशों का पालन करेंगे.

अखिलेश उठा सकते हैं बड़ा कदम
सूत्रों की माने तो अखिलेश यादव जल्द ही अयोध्या में मंत्री पवन पाण्डेय, बलिया में रामगोविंद और बाराबंकी अरविंद सिंह गोप के समर्थन में बड़ी रैली कर सकते हैं. यही नहीं अगर बात नहीं बनी और अखिलेश यादव के करीबियों को अगर टिकट नहीं दिया जाता तो सीएम अपने चहेतों को निर्दलीय ताल ठोकने की हरी झंडी दे सकते हैं और वो इन सीटों पर वह उनके समर्थन में रैली भी करने का फैसला ले सकते हैं.

अखिलेश के करीबियों का पत्ता साफ
सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव द्वारा जारी लिस्ट में अखिलेश के कई समर्थकों के नाम नहीं हैं. इनमें- पवन पांडे, अरविंद गोप, अरुण वर्मा जैसे विधायकों का पत्ता साफ हो गया जो अखिलेश के काफी करीबी माने जाते हैं. दूसरी ओर से इस लिस्ट में चाचा शिवपाल यादव के समर्थकों की प्रभुत्व साफ तौर पर दिख रहा है. शिवपाल के खेमे के ओम प्रकाश सिंह, साहेबी फातिमा यहां तक कि बाहुबली अतीक अहमद का नाम भी लिस्ट में शामिल है.

पार्टी अध्यक्ष करें फिर से विचार: अखिलेश
दूसरी ओर टिकट बंटवारे से नाराज अखिलेश यादव ने पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह से फिर से लिस्ट पर विचार करने की अपील की है. अखिलेश यादव ने टिटक बंटवारे पर कहा- मेरी जानकारी में नहीं है कि लिस्ट में क्या है. मैं समझता था कि जो जीत सकते हैं. मैंने भी एक सूची राष्ट्रीय अध्यक्ष जी को दी थी. जिसमें जानकारी के बाद ये जीत सकते हैं और उन नामों पर चर्चा हो उन नामों को मैने राष्ट्रीय अध्यक्ष को दिये थे. अभी नई सूची आई है कुछ ऐसे नाम है जिनकी टिकट कटी है. मैं फिर राष्ट्रीय अध्यक्ष से कहूंगा कि ऐसे लोग जिन्होंने काम अच्छा किया है जो अपने क्षेत्र में जीत सकते है उन पर विचार किया जाए.

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas