: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : 09/27/16

बरेली खुसरो व दिवाकर अस्पताल के लाइसेंस निरस्त : बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार




बरेली : निजी अस्पतालों के लापरवाह और गलत तरीके से कामकाज करने की शिकायतों पर स्वास्थ्य महकमा सख्त हो गया है। सीएमओ ने मंगलवार को शहर के दो अस्पतालों के लाइसेंस निरस्त कर दिए। इसके बाद अस्पतालों को बंद करा दिया गया।
मिनी बाईपास स्थित खुसरो अस्पताल में बीते दिनों फतेहगंज पश्चिमी निवासी रामबाबू की पत्नी 29 वर्षीय हीराकली की गर्भपात के दौरान अत्याधिक रक्तस्राव हुआ था। इससे उनकी मौत हो गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गर्भाशय फटने के कारण गर्भपात की बात सामने आई थी। मामला कन्या भ्रूण हत्या का भी सामने आया था। मामला नेशनल इंसपेक्शन एंड मॉनीट¨रग कमेटी ने संज्ञान में लिया। सीएमओ ने जांच कराई तो महिला का इलाज करने वाली डा. नीलम कुशवाह का विभाग में रजिस्ट्रेशन नहीं मिला। इसके अलावा अस्पताल में कई और कमियां भी पाई गई। वहीं इसी रोड पर स्थित दिवाकर अस्पताल को अवैध बताते हुए बीते दिनों बीडीए की टीम उसे ढहाने पहुंची थी। हालांकि टीम वहां समय देकर वापस लौट गई। बीडीए की ओर से पत्र स्वास्थ्य विभाग को पहुंचा था। दोनों ही मामलों को गंभीर मानते हुए सीएमओ डा. विजय यादव ने दोनों अस्पतालों के लाइसेंस निरस्त कर दिए। मंगलवार को आदेश अस्पतालों को पहुंचा दिए गए। इसके बाद उन अस्पतालों को बंद कर दिया गया। सीएमओ डा. विजय यादव ने बताया कि किसी भी निजी अस्पताल में गलत काम होने पर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


वादाखिलाफी से आहत होमगार्ड ने फिर भरी हुंकार : बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार , www.budaunexpress.com





बदायूं : उप्र.होमगार्डस अवैतनिक अधिकारी व कर्मचारी एसो. ने गत दिनों मुख्य सचिव के ड्यूटी मिलने के आश्वासन पर प्रदर्शन खत्म किया था। मगर इसके बाद भी ड्यूटी नहीं मिली। इससे खफा होमगार्ड ने फिर आंदोलन शुरू कर दिया है। इसके साथ ही मुख्य सचिव का आदेश भी नहीं पहुंचा है। इसलिए हर जिले में एक से तीन अक्टूबर तक प्रदर्शन करने का एलान किया गया। मालवीय आवास पर आयोजित बैठक में जिलाध्यक्ष धर्मपाल ¨सह ने कहा कि गत दिनों लगातार धरना प्रदर्शन किया गया। इसके बाद मुख्य सचिव ने फौरी तौर पर कहा था कि सभी को एक समान रूप से ड्यूटी मिल जाएंगी। पर अब तक आदेश नहीं किए गए हैं। जिससे आर्थिक संकट में फंस गए हैं। मगर अब जवान कुछ नहीं सुनेंगे। अगर 30 सितंबर तक यह आदेश जारी नहीं किए गए, तो आने वाले दिनों में एक से तीन अक्टूबर तक कार्य बहिष्कार किया जाएगा। चार अक्टूबर को जीपीओ लखनऊ के सा 

बाइक भिडंत में एक की मौत, तीन घायल




बदायूं : फैजगंज बेहटा में आमने-सामने से बाइक टक्कर से एक युवक की मौत हो गई। फैजगंज बेहटा के खेड़ा दास निवासी बेनीराम का पुत्र राहुल (30) के रूप में हुई। बाइक पर तीन एवं चार लोग सवार थे। हादसे में घायल पूजा, कृष्णऔतार, विपिन को इलाज के लिए भर्ती किया गया। परिजनों ने बताया राहुल रिश्तेदारी से घर लौट रहा था। इसी दौरान ओरछी तिराहे पर हादसा हो गया।

लापता बच्चे की लाश मिलने पर हंगामा : बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार www.Budaunexpress.com

सदर विधायक व कोतवाल के बीच नोंकझोंक, लापता बच्चे की लाश मिलने पर हंगामा



 बदायूं : शहर के मुहल्ला ऊपरपारा से लापता तीन वर्षीय बच्चे की लाश नाले में मिलने से हंगामा खड़ा हो गया। मृतक के परिजनों ने एक प्रतिष्ठित व्यापारी पर हत्या का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। मामला बिगड़ता देख कई थानों का फोर्स मौके पर तैनात कर दिया गया। घटना के बाद सदर विधायक और कोतवाल के बीच प्रकरण में पुलिस की लापरवाही किए जाने पर तीखी नोंकझोंक हुई। फिलहाल पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की बात कर रही है। बीती 19 सितंबर को ऊपरपारा निवासी केबल आपरेटर शारिक का तीन वर्षीय पुत्र मोहम्मद हमजा अचानक लापता हो गया था। परिजनों ने उसकी तलाश करने के बाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करने के बाद बच्चे की तलाश शुरू कर दी। पुलिस उसकी तलाश कर ही रही थी कि मंगलवार दोपहर करीब एक बजे मुहल्ले के बच्चों ने सदर विधायक आबिद रजा की कोठी के पीछे वाले नाले में हमजा का शव तैरता हुआ देखा। शव दिखाई देने के बाद उन्होंने मामले की सूचना मृतक के परिजनों को दी। कुछ ही देर में मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को नाले से बाहर निकालने का प्रयास किया, तो मृतक पक्ष के लोगों ने एक प्रतिष्ठित व्यापारी पर अपहरण के बाद हत्या का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। इसी दौरान सदर विधायक आबिद रजा भी मौके पर पहुंच गए। विधायक ने पुलिस पर हत्या करवाने का आरोप लगाते हुए सदर कोतवाल एसपी उपाध्याय को निशाना बनाया। इससे कोतवाल और विधायक के बीच काफी नोंकझोंक हो गई। आरोप था कि पुलिस ने लापता बच्चे की तलाश में सुस्ती दिखाई। मामला बिगड़ता देख एसपी सिटी अनिल कुमार यादव कई थानों का पुलिस फोर्स लेकर मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने मृतक के परिजनों को पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई का भरोसा दिया, तब वह शांत हुए। इसके बाद पुलिस ने शव को नाले से निकलवाने के बाद पोस्टमार्टम को भेज दिया।

मामले की गुमशुदगी दर्ज कर पुलिस बच्चे की तलाश कर रही थी। बच्चे की लाश नाले से बरामद हुई है। परिजन हत्या का आरोप लगा रहे हैं। लाश पोस्टमार्टम को भेज दी गई है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चलेगा कि उसकी हत्या की गई है या फिर पानी में डूबने से मौत हुई। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।
- आनंद कुमार पांडेय, सीओ सिटी

अंकतालिकाएं प्राप्त करें : बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार




उझानी : नगर के अयोध्या प्रसाद मेमोरियल पीजी कालेज के प्राचार्य डॉ.नरेंद्र ¨सह ने बताया कि महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं की सत्र 2015-16 की अंकतालिकाएं बीए प्रथम वर्ष, संस्थागत व व्यक्तिगत एमए प्रीवियस, फाइन, एम.कॉम, प्रीवियस, फाइनल, बीए तृतीय वर्ष, बी.कॉम तृतीय वर्ष बीएससी प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्ष बीएड प्रीवियस महाविद्यालय में प्राप्त हो चुकी है। सभी छात्र-छात्राएं अपनी अंकतालिकाएं विद्यालय समय में प्रात: 10 से अपराह्न तीन बजे तक प्राप्त कर लें।

बदायूं के महेश का आगरा में सम्मान

उप्र भारत स्काउट और गाइड की प्रादेशिक परिषद की बैठक में बदायूं के स्काउ¨टग को सम्मानित किय 



बदायूं : उप्र भारत स्काउट और गाइड की प्रादेशिक परिषद की बैठक में बदायूं के स्काउ¨टग को सम्मानित किया गया। आगरा कैंट में आयोजित कार्यक्रम में बदायूं के जिला मुख्य आयुक्त महेश चंद्र सक्सेना को मैडल आफ मेरिट व जिला संगठन कमिश्नर प्रवेश कुमार ¨सह राठौर को लॉग सर्विस मैडल के सम्मान दिया गया। प्रादेशिक संस्था के अध्यक्ष संजय मोहन और प्रादेशिक मुख्यायुक्त डॉ. अवध नरेश वर्मा ने मैडल पहना कर सम्मान दिया।

हदी लेख प्रतियोगिता में आरती और संगीता अव्वल





बदायूं: अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रखर संस्कारशाला के मुहल्ला श्रीनारायणगंज स्थित कैंप कार्यालय पर सरदार भगत ¨सह की 109वीं जयंती की पूर्व संध्या पर आयोजन किया गया। विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने शहीद भगत ¨सह के चित्र पर पुष्प अर्पित किए। ¨हदी और अंग्रेजी सुंदर लेख प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ स्थान पाने वाले बच्चों को सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि बाबूराम ¨सह भाय ¨सह स्नातकोत्तर महाविद्यालय बबराला संभल के प्राचार्य डॉ.मगेंद्रपाल ¨सह ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि शहीद भगत ¨सह ने देश की आजादी के लिए साहस के साथ शक्तिशाली ब्रिटिश सरकार से मुकाबला किया और देश के नौजवानों के आदर्श बन गए। आज उनके त्याग और बलिदान को सारा देश प्रणाम करता है। गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि काकोरी कांड में रामप्रसाद बिस्मिल समेत 4 क्रांतिकारियों को फांसी और 16 को कारावास की सजा से बेचैन सरदार भगत ¨सह ने चंद्रशेखर आजाद के साथ सेवा, त्याग और पीड़ा झेल सकने वाले युवाओं को संगठित कर अंग्रेजों के खिलाफ मोर्चा खोला। बांके बिहारी कन्या महाविद्यालय उझानी की प्रवक्ता ईशा वाष्र्णेय, डॉ.अवनीश कुमार गुप्ता, फौजी सतीशचंद्र शर्मा और योगेंद्रनाथ गोयल प्रतियोगिता के निर्णायक रहे। अध्यक्षता रामऔतार शर्मा ने की। सीनियर की सुंदर ¨हदी लेख प्रतियोगिता में आरती प्रथम, मृत्युंजय द्वितीय और उत्कर्ष तृतीय। जूनियर में संगीता पहले, नीलम दूसरे, सौम्या तीसरे स्थान पर रहीं। प्राइमरी में प्राची प्रथम, अक्षरा द्वितीय, दीप्ति तृतीय रहीं। सीनियर की सुंदर अंग्रेजी लेख में कुशाग्र उपाध्याय, आरती प्रथम, उत्कर्ष द्वितीय, मृत्युंजय तृतीय रहे। जूनियर में अनुभव पांडेय और नैना प्रथम, सौम्या द्वितीय और संगीता, नीलम तृतीय रही। अक्षरा प्रथम, प्राची द्वितीय और दीप्ति तृतीय रही। इस मौके पर रामनिवास शर्मा,पवन कुमार आदि मौजूद रहे।

ब्लू¨मगडेल स्कूल के सिद्धार्थ ने जीती बाजी




वजीरगंज: आयोजित सामान्य ज्ञान परीक्षा के घोषित परिणाम में ब्लू¨मगडेल स्कूल के छात्र सिद्धार्थ वाष्र्णेय ने प्रथम व मुन्नालाल इंटर कालेज में पढ़ने वाली स्नेहलता व शिवानी ¨सह ने संयुक्त रूप से द्वितीय स्थान प्राप्त किया है। सभी विजेताओं को संगठन की ओर से पुरस्कृत किया गया है।
छात्र-छात्राओं में बौद्धिक जागरण तथा उन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार करने के उद्देश्य से वजीरगंज क्लब वजीरगंज द्वारा देवकी नंदन सेनानी स्मारक इंटर कालेज में विगत चार सितंबर को आयोजित हुई। इस सामान्य ज्ञान परीक्षा में कक्षा नौ से बारह तक की कक्षाओं में अध्ययनरत करीब 472 छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया था। क्लब द्वारा परीक्षा में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को क्रमश: 31 सौ, 21 सौ व 11 सौ रुपये के अलावा दस सांत्वना पुरस्कार की घोषणा की गई। सोमवार को क्लब के मीडिया प्रभारी व प्रतियोगिता के संयोजक योगेंद्र वाष्र्णेय ने परिणाम घोषित करते हुए बताया कि परीक्षा में ब्लू¨मगडेल स्कूल की कक्षा नौ में पढ़ने वाले छात्र सिद्धार्थ वाष्र्णेय ने प्रथम, मुन्नालाल इंटर कालेज में कक्षा 11 में पढ़ने वाली छात्रा स्नेहलता व शिवानी ¨सह ने संयुक्त रूप से द्वितीय व ब्लू¨मगडेल स्कूल की कक्षा 10 में पढ़ने वाले रितुल भाटिया ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। सांत्वना पुरस्कार प्राप्त करने वाले विद्यार्थियो में ¨ट्वकल वाष्र्णेय, जुनैद शै़ख, जितेंद्र कुमार, सौम्या वाष्र्णेय, शिवानी गुप्ता, अवधेश कुमार, काजल ¨सह, विनय कुमार, अनुराग वाष्र्णेय व महाराणा प्रताप रहे। क्लब के अध्यक्ष वेदप्रकाश वाष्र्णेय ने सफल होने वाले सभी विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा क्लब कि शीघ्र ही इस प्रकार की एक और बड़ी परीक्षा के आयोजन कराने की तैयारी कर रहा है। इस अवसर पर आदित्य तोमर, यश वाष्र्णेय,सुमित वाष्र्णेय,अभिषेक कमल आदि उपस्थित रहे।

लापरवाही बरती तो जोखिम में पड़ जाएगी जान





बदायूं : आवारा कुत्ते के काटने से शरीर में फैलने वाला रेबीज संक्रमण जानलेवा होता है। इस बात को नजर अंदाज नहीं कर सकते। सभी जानते हैं रेबीज संक्रमण वाले पशुओं के काटने पर इलाज में कोई लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। इसके बाद भी कुछ लोग लापरवाही बरतते हैं। इससे नतीजा जो निकलकर आता है। वह काफी भयावह होता है। हर साल पांच से सात लोग इसी लापरवाही की वजह से अपनी जान गंवा देते हैं। हैरत की बात तो यह है कि स्वास्थ्य विभाग इस विषय में हर साल लाखों रुपये प्रचार-प्रसार पर पानी की तरह बहाता है, फिर भी लोग अधिकांश मामलों में एआरवी सेंटर न जाकर नीम-हकीमों के यहां दस्तक देते हैं। कुत्तों के शिकार होने वाले लोगों की वास्तविक हकीकत और उनके आतंक के बारे में जागरण ने अपने समाचारीय अभियान में विस्तार से बताया है। खबरों के माध्यम से सिस्टम पर प्रहार किया गया तो लोगों को भी जागरुक करने का प्रयास हुआ। अभियान के तीसरे दिन इसका असर धरातल पर दिखाई दिया। जिला अस्पताल स्थित एआरवी सेंटर के अलावा जिले के सभी सेंटरों पर वैक्सीन भरपूर मात्रा में भिजवाने का दावा स्वास्थ्य विभाग ने किया। ताकि किसी भी पीड़ित की जान जोखिम में न पड़े। जानकार बताते हैं कुत्ता या बंदर के काटने से ज्यादा नुकसान हमारी लापरवाही से होता है।

अखिलेश व्यक्ति अच्छे, मुख्यमंत्री बेकार : डॉ.संजय





बदायूं : उत्तर प्रदेश कांग्रेस चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सदस्य डॉ.संजय ¨सह ने सपा में चल रही उठा-पटक पर तंज कसे। उन्होंने कहा कि सपा में सिर्फ परिवारवाद है। अखिलेश यादव को व्यक्ति अच्छा बताया, लेकिन मुख्यमंत्री बेकार हैं। वह कहते कुछ हैं और करते कुछ और। हाल ही में भ्रष्टाचार में घिरे एक मंत्री के खिलाफ कार्रवाई हुई और फिर कार्रवाई वापस भी हो गई। उप्र.का सपा-बसपा के आने से बहुत नुकसान हुआ है। जब इनकी सरकार होती है, तो पुलिस और प्रशासन उनका प्रतिनिधि बन जाता है। जनसभा से पहले वह पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार जब उद्यमियों का कर्ज माफ कर सकती है, तो किसानों का कर्ज क्यों नहीं माफ करती। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कांग्रेस लोकतंत्र में विश्वास करती है। प्रदेश की जनता फिर कांग्रेस को सत्ता में पहुंचाने का मन बना चुकी है। राहुल गांधी की किसान यात्रा से किसान और नौजवान कांग्रेस से जुड़ रहे हैं। प्रियंका गांधी को प्रोजेक्ट किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में ही उत्तर प्रदेश और केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनेगी, हां प्रियंका गांधी और बेहतर काम करेंगी। आतंकवाद के मुद्दे पर उन्होंने केंद्र सरकार की कार्रवाई को नाकाफी बताते हुए कहा कि मोदी सरकार की कूटनीतिक कमी से यह नौबत आई है। इस मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सलीम इकबाल शेरवानी, मुफ्ती मोहम्मद मोनिस, ओमकार ¨सह, साजिद अली आदि मौजूद रहे।



सीडीओ ने ब्लाकवार तलब की रिपोर्ट




बदायूं : जिले में दो अक्टूबर तक 100 से अधिक गांवों को खुले में शौच मुक्त कराने का लक्ष्य है। यह तारीख जैसे-जैसे करीब आती जा रही है, अफसरों की ¨चता बढ़ने लगी है। गांवों में अभियान तो चल रहा है, लेकिन इसे और तेज करने के निर्देश देते हुए सीडीओ ने प्रभारी डीपीआरओ से ब्लाकवार गांवों की स्थिति की रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा है कि ब्लाक स्तरीय अधिकारियों, ग्राम पंचायतों को और सक्रिय किया जाए ताकि अधिक से अधिक गांवों को खुले में शौच से मुक्त कराया जा सके। दैनिक जागरण के छोड़ो जंगल जाना अभियान का व्यापक असर हुआ है। गांवों में शौचालयों का निर्माण तेजी से कराया भी जा रहा है, लेकिन अपेक्षा के अनुरूप गांव ओडीएफ घोषित नहीं हो सके हैं। 1038 ग्राम पंचायतों में से अभी तक सिर्फ 20 गांव ही खुले में शौच से मुक्त कराए जा चुके हैं। शासन स्तर से इसकी निगरानी भी हो रही है और समीक्षा भी की जा रही है, इसलिए प्रशासनिक अधिकारियों पर भी दबाव बढ़ता जा रहा है। सीडीओ अच्छे लाल ¨सह यादव ने प्रभारी डीपीआरओ जय ¨सह यादव, कोआर्डिनेटर जाबाज खां से जिले में शौचालयों की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने यह भी पूछा कि कितने गांव कब तक ओडीएफ घोषित हो जाएंगे। सीडीओ ने कहा कि जहां भी जरूरत हो वह खुद चलने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा है कि ओडीएफ की टीमें कहां काम कर रही हैं सभी की रिपोर्ट बनाकर दें। बीडीओ, एडीओ पंचायत, ग्राम पंचायत अधिकारियों को भी लक्ष्य दिया गया है उनकी प्रगति रिपोर्ट भी मंगाएं ताकि पता चल सके कि जिले में क्या स्थिति है 

सपा नेताओं की देन हैं जंगलराज : शीला दीक्षित






बदायूं- प्रदेश की बदहाली के लिए गैरकांग्रेसी दलों की वह राजनेतिक पार्टियां जिम्मेदार हैं जिन्होनें जनता के हित का कोई काम नहीं किया, उक्त विचार मिशन मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने व्यक्त किए। श्रीमती दीक्षित ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में व्याप्त जंगलराज के हालात सपा नेताओं की देन हैं और सपा नेताओं के पास जनता के दर्द की तरफ देखने की फुरसत नहीं है क्योंकि कुर्सी की खातिर उनका सारा ध्यान कुर्सी पाने और कुर्सी बचाने में लगा हुआ है।


वाहन चोर गिरोह के नजदीक पहुंची कोतवाली पुलिस





बदायूँ  : कोतवाली पुलिस बड़े वाहन चोर गिरोह के नजदीक पहुंच गई है। सोमवार को पुलिस ने पॉश कॉलोनी विजय नगर के एक बंगले में छापामारी की। यहां पुलिस के हाथ कुछ नहीं आया। हालांकि, सूत्रों ने बताया कि चोरी की कुछ लग्जरी गाड़ियां पुलिस ने ट्रेस कर ली हैं। अगले दो दिन में बड़ा वर्कआउट हो सकता है।
वाहन चोर गिरोह के सरगना को ट्रेस करने में जुटी कोतवाली पुलिस ने विजय नगर कॉलोनी के एक बंगले में छापामारी की, तो यहां हड़कंप मच गया। यह बंगला एक महाविद्यालय की प्राचार्या का बताया जा रहा है। चर्चा है कि पुलिस ने चोरी की पांच गाड़ियां भी ट्रेस कर ली हैं। इंस्पेक्टर कोतवाली एसपी उपाध्याय ने बताया कि जल्द खुलासा कर दिया जाएगा। कई ठोस क्लू पुलिस को मिल चुके हैं।

दो दूध विक्रेताओं का खाद्य सुरक्षा टीम ने भरा सैंपल





बदायूँ: जिले में मिलावटी दूध की बिक्री कर रहे दूध विक्रेताओं के खिलाफ खाद्य सुरक्षा विभाग की ओर से अभियान शुरू कर दिया गया है। नवदुर्गा, दशहरा, मोहर्रम, दीपावली आदि त्योहारों पर मिलावटखोरी के खिलाफ लगाम कसने के लिए विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है और इसी के तहत सोमवार को दो दूधियों के सैंपल भरे गए।
सोमवार सुबह कुंवरगांव थाना क्षेत्र के गांव खासपुर के अनवर पुत्र मोहम्मद इस्लाम और अतहर अली पुत्र बशीर उद्दीन शहर में दूध बेचने के लिए ला रहे थे। शहर में नवादा मोड़ के पास खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजीव कुमार ने उन लोगों से दूध के नमूने ले लिए। इन नमूनों को जांच के लिए लखनऊ स्थित लैब में भेजा जाएगा।
इससे पहले अप्रैल से अगस्त तक 13 लोगों के दूध के नमूने लिए गए थे। इसमें से सात की रिपोर्ट आ चुकी है, जिसमें एक नमूना अधोमानक पाया गया। इस बारे में खाद्य सुरक्षा विभाग के अभिहीत अधिकारी संजय शर्मा ने बताया कि अधोमानक पाए जाने वाले दूध विक्रेता के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। कहा कि आगे भी मिलावटी दूध की बिक्री रोकने के लिए अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।

जागरूकता को बनाए जाएंगे कैंपस एंबेसडर्स




बदायूँ : एडीएम ने प्राचार्यों साथ बैठक कर दिए दिशा निर्देश भारत निर्वाचन आयोग की स्वीप योजना अंतर्गत सभी डिग्री कॉलेजों के छात्र-छात्राओं के माध्यम से जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। शत-प्रतिशत सहभागिता सुनिश्चित कराने के लिए कॉलेजों में स्वीप कोओर्डिनेटर्स एवं कैंपस एंबेसडर्स बनाए जाएंगे। एक जनवरी 2017 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाला कोई भी युवक, युवती मतदाता बनने से वंचित न रहे, इसलिए शहरी, नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा।  अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी 

बादशाहपुर में पुलिस ने पकड़ी शस्त्र फैक्ट्री

एक धरा, दो रायफल, तमंचा समेत उपकरण बरामद



बिल्सी " थाना पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई। मुखबिर की सूचना पर क्षेत्र के गांव बादशाहपुर के जंगल में एक अवैध शस्त्र फैक्ट्री पकड़ी। छापेमारी के दौरान को एक को पकड़कर हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ की जा रही है।

एसओ एनपी सिंह ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव के जंगल में कुछ लोग अवैध शस्त्र बनाने की फैक्ट्री चला रहे हैं। पुलिस ने छापामारी की तो मौके से नवाब सिंह उर्फ नब्बे यहां शस्त्र बनाते हुए पकड़ा गया। जिसके पास से दो बनी हुई रायफल, एक तमंचा तथा कई अधबने तमंचे के अलावा कई कारतूस के खोखे, बनाने के उपकरण भी बरामद हुए।


कलक्ट्रेट गेट पर ताला जड़ा, हाईवे किया जाम

कलक्ट्रेट गेट पर ताला जड़ा, हाईवे किया जाम





बदायूँ : राज्य कर्मचारियों का दर्जा देने और वेतन बढ़ाए जाने की मांग को लेकर 25 दिनों से चल रहा आंगनबाड़ी वर्करों का धरना सोमवार को उग्र प्रदर्शन में तब्दील हो गया। ज्ञापन न लेने पर भड़की आंगनबाड़ी वर्करों ने पहले से कलक्ट्रेट गेट पर तालाबंदी की। इसके बाद सड़क पर लेटकर मथुरा-बरेली हाईवे जाम कर दिया। जाम लगने और आंगनबाड़ी वर्करों के उग्र प्रदर्शन से प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। एडीएम ने मौके पर जाकर ज्ञापन लिया। इसके बाद ही सड़क का जाम खोला जा सका।   महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की जिलाध्यक्ष मिथलेश कुमारी के नेतृत्व में

अब BSF के पास होगा अपना अलग एयर विंग



नई दिल्ली (27 सितंबर): उरी हमले के बाद एक्शन में आई मोदी सरकार एक के बाद एक बड़े फैसले लेने में लगी है। इसी कड़ी में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक बड़ा फैसला लेते हुए बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) को अगल एयर विंग देने का निर्णय किया है।
सूत्रों ने बताया कि इस मसले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बीएसएफ डीजी के साथ मंगलवार को बैठक की है। बैठक के बाद बीएसएफ डीजी ने बयान दिया कि गृह मंत्री ने मधुकर गुप्ता कमेटी की रिपोर्ट को लेकर बैठक बुलाई थी। बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि कमेटी की सिफारिशों को कैसे लागू किया जाए। मीटिंग में MHA के बॉर्डर मैनेजमेंट के अधिकारी भी मौजूद थे।
बता दें कि पठानकोट आतंकी हमले के बाद मधुकर गुप्ता की अध्यक्षता में कमेटी बनाई थी, जिसे भारत-पाकिस्तान सीमा पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के लिए सुझाव देने थे। इसके जरिए अब बीएसएफ जमीन से लेकर हवा तक सीमा पर दुश्मनों पर नजर रख सकेगी। जानकारी के मुताबिक मौजूदा समय में BSF एयरविंग का कुछ हिस्सा DGCA की तरफ से कंट्रोल होता है। वहीं MI-17, V-5 जैसे हेलीकॉप्टर एयरफोर्स की तरफ से कंट्रोल किए जाते हैं।

ककराला में बुखार से दो महिलाओं की मौत



बदायूँ : बुखार से मौत का दौर सोमवार को भी जारी रहा। रविवार को ककराला में बुखार से दो लोगों की मौत के बाद सोमवार को भी दो महिलाओं ने बुखार के चलते दम तोड़ दिया। इनमें एक महिला की मौत दिल्ली में हुई, जबकि दूसरी ने घर पर ही दम तोड़ा। कस्बे में 200 से ज्यादा लोग बुखार की गिरफ्त में हैं। अस्पताल में बेड और दवाओं की किल्लत के चलते लोग जिला अस्पताल के साथ झोलाछापों की शरण में जाने को मजबूर हो रहे हैं।

जिले में संक्रामक बुखार का प्रकोप अगस्त के पहले सप्ताह में शुरू हुआ था। सबसे पहले जगत ब्लाक और ककराला को बुखार ने गिरफ्त में लिया। इसके बाद कादरचौक, सालारपुर ब्लाक की बुखार की गिरफ्त में आ गए। ककराला कस्बे के फरहत की पत्नी फिरोज (40) को कई दिन से बुखार आ रहा था। स्थानीय डॉक्टर से इलाज में सुधार न होने पर परिवार वालों ने उसे दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया। वहां इलाज के दौरान रविवार रात फिरोज की मौत हो गई।
ककराला कस्बे के ही तारिक की पत्नी शबनम (29) कई दिन से बुखार की गिरफ्त में थी। परिवार वाले उसका कस्बे में ही एक डॉक्टर से इलाज करा रहे थे। सोमवार को शबनम ने भी दम तोड़ दिया। कस्बे में 200 से ज्यादा लोग बुखार की चपेट में हैं। संक्रामक रोग नियंत्रण सेल की टीमों के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीमें भी काम कर रही हैं। इसके बावजूद स्थिति पर काबू नहीं हो पा रहा है।
गुलड़िया के बाबूजी को निगल गया बुखार
गुलड़िया। बिजली विभाग के मुख्य अभियंता के पद से 26 साल पहले सेवानिवृत्त होने के बाद समाजसेवा में जुटे गुलड़िया के हरप्रसाद सिंह उर्फ बाबू जी को भी बुखार निगल गया। सोमवार को उनकी बरेली के एक अस्पताल में मौत हो गई। वह करीब 85 साल के थे। उनके निधन से इलाके में शोक की लहर है।
हरप्रसाद सिंह ने गुलड़िया के विकास के लिए काफी काम किया। कुर्मी समाज की तरक्की के लिए भी वह जुटे रहे। सदभावना समिति के अध्यक्ष रहे हरप्रसाद सिंह ने चंदा करके गुलड़िया में श्मशान भूमि का निर्माण कराया। उनके प्रयासों से ही कछला में कुर्मी धर्मशाला का निर्माण हुआ और दातागंज रेलवे क्रासिंग के पास कुर्मी क्षत्रिय महाविद्यालय की नींव रखी। यह निर्माणाधीन है। गुलड़िया में विद्युत सब स्टेशन की स्थापना भी हरप्रसाद सिंह के प्रयासों से हुई थी। उनके निधन से पूरे इलाके में शोक की लहर है।
सराय पिपरिया और अलापुर में लगे हेल्थ कैंप
बदायूं। दातागंज ब्लाक के गांव सराय पिपरिया और अलापुर कस्बे में संक्रामक रोग नियंत्रण सेल की ओर से हेल्थ कैंपों का आयोजन किया गया। सराय पिपरिया गांव में स्वास्थ्य विभाग ने फागिंग भी कराई। हेल्थ कैंपों में 600 से ज्यादा लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवाएं दी गईं। संदिग्ध रोगियों की स्लाइड भी तैयार की गईं। डॉ. कौशल गुप्ता, डॉ. कमर इकबाल ने स्वास्थ्य परीक्षण किया। सीएमओ डॉ. सुनील सक्सेना ने हेल्थ कैंपों का निरीक्षण किया।
ककराला में समाजसेवियों ने लगवाए हेल्थ कैंप
ककराला। कस्बे में समाज सेवी साजिद अली खां और असलम खां ने हेल्थ कैंप लगवाए। यहां भारी संख्या में लोग स्वास्थ्य परीक्षण के लिए पहुंचे। स्वास्थ्य परीक्षण के बाद बीमार लोगों को दवाओं का वितरण भी किया गया। मंगलवार को भी हेल्थ कैंपों का आयोजन किया जाएगा। 

पैसा दिया भरपूर, बच्चे फिर भी खेल से दूर

प्रतियोगिताओं के दौरान कॉलेजों की लापरवाही की खुलती है पोल 



बदायूँ. प्रदर्शन पर सरकार ने 20 सूत्रीय कार्ययोजना तैयार की है। प्रदर्शन से ¨चतित सरकार ने अगले ओलंपिक में खिलाड़ियों के बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रयास शुरु होंगे। तो वहीं स्थानीय स्तर पर खेलों की दैनीय स्थिति है। कॉलेजों में छात्र-छात्राओं से भरपूर फीस ली जाती है, लेकिन ज्यादातर कॉलेजों में खेलकूद कराए ही नहीं जाते। ऐसे में सरकार की अगले ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन का प्रयास महज एक सपा ही बनकर रह जाएगा।
माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं से खेल समेत अन्य कई मदों में शुल्क वसूल किया जाता है। सत्र में दो बार फीस ली जाती है। सरकारी कॉलेजों में पांच रुपये प्रति महीना प्रति बच्चा के हिसाब से शुल्क लिया जाता है। यह धनराशि कहां जाती है, इसकी जानकारी तो जिम्मेदार ही बता सकते हैं। असल में तकरीबन 90 प्रतिशत कॉलेजों में खेलकूद कराए ही नहीं जाते। शहर के श्रीकृष्ण इंटर कॉलेज, भगवान परशुराम इंटर कॉलेज आदि कुछ और कॉलेजों में बच्चों को पूरी तनलीनता से खेल खिलाए जाते हैं, जिसका फल उन्हें प्राप्त होता है। खिलाड़ी उच्च स्तरीय प्रतियोगिताओं में पदक जीतकर जिले का नाम रोशन करते हैं। तो वहीं अन्य बहुत से कॉलेजों ने खेलों का मजाक बनाकर रख दिया है। कक्षा नौ से कक्षा 12 तक के हर बच्चे से क्रीड़ा शुल्क तो वसूल किया जाता है, लेकिन खेल कभी नहीं होते। लापरवाही का आलम तो यहां तक है कि विभागीय जिम्मेदारों को जानकारी होने के बाद भी न तो क्रीड़ा शुल्क का हिसाब लिया जाता है और न ही खेल न कराने पर कार्रवाई। इसी का परिणाम है कि कॉलेज के बड़े-बड़े मैदानों की साफ-सफाई भी नहीं कराई जाती है। ऐसे में केंद्र सरकार का अगले ओलंपिक में 50 पदक जीतने का कयास महज दिखावा बनकर रह जाएगा।

प्रतियोगिताओं में खुलती है पोल
कॉलेजों की लापरवाही की पोल जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं में खुलती है। जब चार-छह कॉलेजों की टीम ही प्रतिभाग करने पहुंचती हैं। पिछले दिनों श्रीकृष्ण इंटर कॉलेज में हुई इंडोर प्रतियोगिता में शहर से मात्र दो या तीन कॉलेजों की टीम ने ही प्रतिभाग किया, शेष टीम बाहर की थीं। इसी प्रकार दातागंज में हैंडबाल की प्रतियोगिता में महज चार कॉलेजों की टीमों ने हिस्सा लिया था।



अब कांग्रेस ने गरम किया सियासी पारा

देर रात जिले में पहुंची कांग्रेस की चेतना यात्रा, जगह-जगह स्वागत


बदायूँ, बसपा की रैलियों के बाद अब कांग्रेस ने जिले में सियासी पारा गरम किया है। कांग्रेस की चेतना यात्रा सोमवार को देर रात बदायूं पहुंची। जिले की सीमा में जगह-जगह पदाधिकारियों का स्वागत किया गया। मंगलवार को यहां कांग्रेस की मुख्यमंत्री पद की दावेदार दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित यहां बदायूं के मिशन कंपाउंड और उझानी में जनसभा करेंगी। पार्टी कार्यकर्ताओं ने तैयारियों को अंतिम रूप दिया। डॉ.संजय के नेतृत्व में रात करीब आठ बजे यात्रा ओरछी पहुंची, यहां ओरछी चौराहे पर प्रदेश महामंत्री ओमकार ¨सह, जिलाध्यक्ष साजिद अली, केसी दीक्षित, जगदीश प्रसाद शर्मा, आशा राठौर, अमन शर्मा आदि ने यात्रा में शामिल पदाधिकारियों का स्वागत किया। ओरछी के बाद सैदपुर में सभा का आयोजन किया गया, जहां वक्ताओं ने कांग्रेस की नीतियां बताई, केंद्र और प्रदेश सरकार पर निशाना साधा। देर रात शहर में नगला मंदिर के पास मैरिज हॉल में हुई सभा में कांग्रेस की नीतियों को जन जन तक पहुंचाने का आह्वान किया गया।
संस, सैदपुर : कांग्रेस 27 साल यूपी बेहाल बस यात्रा की आमद को लेकर लोगों में काफी जोश नजर आया। घंटों के इंतजार के बाद जब बस यात्रा कस्बे में पहुंची तो नारों के साथ मेहमानों का जोरदार स्वागत किया गया। आंवला क्षेत्र के कांग्रेसी नेता डा.फै•ान खां की जानिब से सभा का आयोजन किया गया। जहां कस्बे के लोगों ने मेहमानों के इंतजार में स्वागत के लिए कई घंटों तक मैन रोड पर जमा रहे। घंटों इंतजार के बाद जैसे ही बस यात्रा यहां पहुंची तो लोगों ने फूलों की बौछार कर नारों के साथ उनका जोरदार स्वागत किया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राज्यसभा संजय ¨सह, मुहम्मद मोनिश, प्रदेश महासचिव ओमकार ¨सह, जिलाध्यक्ष साजिद अली के साथ पहुंचे। डा.संजय ¨सह ने कहा कि यूपी की बेहाली को दूर करने के लिए राहुल गांधी के मिशन को सफल बनाने के लिए लोगों को जागने आए हैं। उन्होंने कहा कि उप्र में किसान परेशान है। महंगाई ने हर तबके को बेहाल कर रखा है। भारतीय जनता पार्टी के शासन में गरीबों के लिए रोजी रोटी के लाले हैं। जरी का करोबार से लोग परेशान है। सपा के तरफ इशारा करते हुए कहा इन्हें दो तीन जिले के ही यादव हैं जिन्हें पुलिस व फोर्स में भर्ती किया जाता है। बसपा की ओर इशारा करते हुए कहा कि यहां तो बस नोटों की ही सोच बनी है। इस मौके पर आरिफ नूरी, विधाराम, गोर्वधन, एहसान सैफी, शाहिद कुरैशी, नासिर खां, मास्टर आफताव आलम, अत्हर खां, जावेद खां, मु.यासिर अराफात खां आदि मौजूद रहे।
कांग्रेसी टीम ने लिया क्षेत्र का जायजा
संस, सहसवान : कांग्रेस के चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की टीम की सदस्य रोही व अंकिता ने ब्लाकाध्यक्ष रमेशचंद्र माहेश्वरी के मुहल्ला शहबाजपुर स्थित आवास पर 113 सहसवान विस क्षेत्र के आवेदक प्रत्याशियों से क्षेत्र के बारे में जानकारी ली। उन्होंने प्रत्याशियों से कहा कि जो भी आवेदक विस चुनाव लडना चाहते है। उन्हें गांव गांव जाकर संपर्क करना होगा और 10 हजारों किसानों के मांग पत्र भरने के साथ ही इसकी रसीद किसानों को देनी होगी। हर किसान के दरवाजे पर 27 साल यूपी बेहाल का स्टीकर लगाना होगा। जिला महासचिव बश्शन खां ने टीम की सदस्यों को जातीय समीकरणों की जानकारी दी और पार्टी से जुड़े पुराने लोगों को ही प्रत्याशी बनाने की मांग की। इस मौके पर नगराध्यक्ष मजाहिर अली एड., रमेशचंद्र माहेश्वरी, डा.रफी मुहम्मद, अर¨वद यादव, बादाम ¨सह, विक्की, अनूप कुमार, विनोद चौहान, समीलउददीन, जीशान खां आदि मौजूद रहे।

दातागंज में दस साल की बच्ची से दुष्कर्म




बदायूं : कोतवाली क्षेत्र में शौच को गई दस वर्षीय बच्ची के साथ गांव के ही 28 वर्षीय युवक ने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। पीड़िता के बेहोश हो जाने पर आरोपी फरार हो गया। बेसुध पीड़िता को लेकर कोतवाली पहुंचे परिजनों ने आक्रोश जताया तो हरकत में आई पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू की। पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है। सोमवार को दोपहर करीब 12 बजे दातागंज इलाके के एक गांव की रहने वाली दस वर्षीय बालिका शौच को जंगल में गई थी। इसी दौरान गांव के ही ओमशरण पुत्र मनोहर कश्यप ने उसको खेत में ही दबोच लिया। वह बच्ची को खींचकर बाजरे के खेत में ले गया। बच्ची ने विरोध किया तो उसने मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। काफी देर तक वह बच्ची की आबरू को रौंदता रहा। इस बीच बच्ची बेहोश हो गई। उसके बेहोश हो जाने पर आरोपी फरार हो गया। आरोपी को बाजरे के खेत से भागते देख आसपास के खेतों पर मौजूद लोगों को शक हुआ तो उन्होंने खेत में जाकर देखा। जहां पीड़िता के बेहोश पड़े होने की सूचना उसके परिजनों को दी गई। सूचना मिलते ही परिजनों के होश उड़ गए। वह मौके पर पहुंचे और पीड़िता को खेत से उठाकर घर ले गए। होश में आने के बाद पीड़िता ने आपबीती सुनाई तो परिजन उसको लेकर कोतवाली पहुंचे। काफी देर तक मामले की जानकारी होने के बाद भी पुलिस पीड़ित परिवार को टहलाती रही। इससे आक्रोशित पीड़ित परिजनों ने एसएसपी से शिकायत करने की धमकी दी तो पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। पुलिस ने आरोपी की तलाश में उसके घर पर दबिश दी लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ा। इधर, जिला महिला अस्पताल भेजी गई पीड़िता की हालत में सुधार नहीं है। -


जेडी का छापा राजकीय बालिका विद्यालय में






बदायूं : राजकीय बालिका विद्यालय का सोमवार को जेडी शिवप्रकाश द्विवेदी ने औचक निरीक्षण कर समाजसेवी प्रदीप उपाध्याय की शिकायतों की जांच की। जेडी प्रधानाचार्या के पक्ष में तर्क करने पर शिकायतकर्ता ने नाराजगी जताई। इसके बाद उन्होंने बा स्कूल में बच्चों को पढ़ाया। नगर के युवा समाजसेवी प्रदीप उपाध्याय ने नगर के राजकीय बालिका विद्यालय की प्रधानाचार्या डेजी फजल पर अभिभावक संघ के खाते में घोटाला करने, अवैध शुल्क बसूली करने और अभिभावकों से अच्छा व्यवहार न करने का आरोप लगाते हुए विभाग के उच्चाधिकारियों से शिकायत की थी। काफी सुर्खियों मे रहे इस पूरे मामले की सोमवार को जांच करने जेडी शिवप्रकाश द्विवेदी स्कूल पहुचे। उन्होने शिकायतकर्ता को भी अपना पक्ष रखने को बुलाया। जांच के नाम खानापूरी के अलावा जेडी ने शिकायतकर्ता को ही हड़का दिया, इस पर शिकायतकर्ता ने नाराजगी जताई। अभिभावक राजाराम शर्मा ने बेटी को स्कूल मे प्रवेश न देने की शिकायत की, इस पर भी जेडी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की। जेडी ने कहा कि प्रदीप उपाध्याय की शिकायत व्यक्तिगत है वस्तुपरक नहीं। इसके बाद जेडी नगर के ही कस्तूरबा स्कूल में पहुंचे। उन्होंने स्कूल की पूरी व्यवस्था को देखा। साफ सफाई का निरीक्षण किया। इसके बाद वह क्लास मे पहुंचे। बच्चों को देश के बारे मे जानकारी दी। चॉक लेकर ब्लैक बोर्ड पर बच्चों को पानी का सूत्र लिखकर बताया। इसके साथ ही शिक्षिकाओ को भी पठन-पाठन के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। बताया कि बच्चों को हर विषय की महत्वपूर्ण जानकारी होनी ही चाहिए। 

zhakkas

zhakkas