: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : 11/06/16

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | सिर्फ बीजेपी ही करेगी उत्तर प्रदेश को गुंडा राज मुक्त




उत्तर प्रदेश | प्रदेश को अपराध मुक्त करने के बीएसपी प्रमुख के दावे पर शाह ने कहा कि केवल बीजेपी ही उत्तर प्रदेश को गुंडा मुक्त करेगी. पूर्व में जब कल्याण सिंह के नेतृत्व में बीजेपी सरकार थी तो अपराधी या तो जेल में थे या भूमिगत हो गये थे. उन्होंने कहा कि मायावती उत्तर प्रदेश का भला नहीं कर सकती. अगर सत्ता में पुन: आयी तो दो चार सौ प्रतिमाएं और लगवा देंगी.

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चाहते हैं कि उत्तर प्रदेश देश का सबसे समृद्व प्रदेश बने. यहां कानून व्यवस्था दुरूस्त रहे. तीन तलाक के मुद्दे पर बीजेपी सरकार ने जो रूख अपनाया है, उसे लेकर हाय तौबा हो रही है

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | राजनाथ ने पाक को ललकारा: सीने का बटन खोलकर भी लड़ ले, भारत जीतेगा






केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान भारत को अस्थिर करना चाहता है। भारत का बंटवारा करना चाहता है। पाकिस्तान को उसी की धरती पर दो टूक जवाब देकर आया हूं। भारत के विकास से पाकिस्तान तिलमिला गया है। पाक, भारत में आतंकियों को भेज रहा है। आतंकवाद कायरों का हथियार होता है। पाकिस्तान आंख से आंख मिलाकर सीने का बटन खोलकर लड़ ले, जीत भारत की होगी।

भारत की सेना ने घर में घुसकर पाकिस्तान का हौसला पस्त कर दिया। आतंकियों को भारतीय सेना नहीं छोड़ेगी। देश की हुकूमत कमजोर नहीं है। सैनिकों के नाम पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। केंद्र सरकार ने सैनिकों को वन रैंक वन पेंशन दिया। कुछ लोग इसपर राजनीति कर रहे हैं। देश के सैनिक राजनीति नहीं चाहते हैं। राजनीति करनी है तो विकास के मुद्दे पर करें। अगर हमारी सरकार भ्रष्टाचार कर रही है तो उसपर राजनीति करें। गृहमंत्री ने परिवर्तन यात्रा के दौरान रविवार को प्रदर्शनी मैदान से बुन्देलों की नब्ज टटोलने का प्रयास किया।

बुन्देलों की सबसे बड़ी समस्या पानी से अपने भाषण की शुरुआत की। बोले, यूपी की सरकार बुन्देलखण्ड को पानी नहीं दे सकी। भाजपा की सरकार बनी तो पांच से दस साल के अंदर यहां पानी की समस्या दूर कर ली जाएगी। सपा और बसपा की सरकार पर भ्रष्टाचारी सरकार होने का आरोप लगाया। सवाल किया कि क्या वजह है कि जब इन दोनों दलों की सरकारें आती हैं तब भ्रष्टाचार का आरोप इनपर लगता है। बोले, प्रदेश में भाजपा की सरकार थी तो कोई भ्रष्टाचार नहीं था। 

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | जापान के साथ असैन्य परमाणु करार करने वाला पहला नॉन-एनपीटी देश होगा भारत






तोक्यो : भारत व जापान इस सप्ताह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा के दौरान ऐतिहासिक असन्य परमाणु सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। इससे जहां इन दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय आर्थिक व सुरक्षा संबंध मजबूत होंगे वहीं अमेरिकी कंपनियों द्वारा भारत में परमाणु संयंत्र लगाना और सुगम होगा।

उल्लेखनीय है कि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबे पिछले साल दिसंबर में भारत की यात्रा पर गए थे तो दोनों देशों में असैन्य परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग के लिए व्यापक सहमति बनी थी। लेकिन कुछ मुद्दे लंबित होने के कारण इस समझौते पर अभी हस्ताक्षर किए जाने हैं।
जापान के प्रमुख अखबार योमियुरी शिंमबुन ने आज खबर दी कि मोदी व एबे श्रुकवार को समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | सपाइयो ने लगाया विवादित पोस्टर मचा घमासान




लखनऊ। सूबे में चुनावी हलचल तेज होती नजर आ रही है। एक तरफ युवा मुख्‍यमंत्री अपने कराये गये विकास कार्यों का दम भर रहे हैं, तो दूसरी तरफ विपक्षी दल कानून व्‍यवस्‍था के नाम पर सरकार को घेरने में लगे हैं।
गुरुवार से शुरु हुई समाजवादी पार्टी की विकास रथ यात्रा को जहां सीएम अखिलेश सफल बता रहें हैं वहीं विरोधी दल इसे पूरी तरह से फलाप कह रहे हैं।

समाजवादी विकास रथ यात्रा के शुरु होते ही पूरे लखनऊ में बैनर और पोस्‍टरों की बाढ सी आ गयी है। एक तरफ सीएम समर्थक तरह-तरह से अखिलेश यादव का गुणगान कर रहे हैं, तो दूसरी तरफ कुछ लोग सीएम अखिलेश को चाचा शिवपाल का आर्शीवाद प्राप्‍त होने के पोस्‍टर लगवा रहे हैं। इस पोस्‍टर वार के बीच जनेश्‍वर मिश्र पार्क में एक विवादित पोस्‍टर लगवाया है बिहार के युवजन सभा के सदस्‍यों ने जिसमें सीएम अखिलेश को कुरुक्षेत्र में रथ पर सवार अर्जुन व सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव को भगवान कृष्‍ण के रूप में दर्शाया गया है।<brइस पोस्‍टर में लिखा है ‘मै हूं मै ही हूं सब में हूं… ना रहूं तो लोग टूट जायेंगे बिखर जायेंगे
पोस्‍टर में ऊपर लिखा है ‘भाजपा वालों बिहारियों ने खदेड़ा है, पटक-पटक के धोया है, अब यूपी वालों की बारी है।

पोस्‍टर में दूसरी ओर भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह को मुंह फैलाये हुए काला धन के बारे में लिखा है ‘भगवा धोती पहन के जोगी, बजा रहा सब ढोलक-झाल, धन की गठरी ले भाजपाइन, बांट रहा मोदी का माल’।
पोस्‍टर लगवाने वाले बिहार से आये धर्मवीर यादव ने बताया कि अमित शाह पीएम मोदी का काला धन ठिकाने लगाने का कर रहे हैं जबकि समाजवादियों ने हमेशा कठोर परिश्रम किया है आने वाले 2017 के विधान सभा चुनाव में पुन्‍: उत्‍तर प्रदेश की जनता समाजवादी पार्टी की सरकार बनायेगी।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | मेरठ: डीएम ने क्रिकेटर को मतदान जागरूकता अभियान का बनाया युथ आइकन





मेरठ । जिले की तेज तर्रार डीएम बी0 चन्द्रकला ने  विधान सभा चुनाव का अभी विगुल बजा नही है । लेकिन चुनाव आयोग के दिशा निर्देश से पहले ही अपने स्तर से डी एम बी चन्द्रकला ने मतदाताओ को अपना मतदान करने की पहल करना शुरू कर दिया है।
डीएम ने प्रेस वार्ता कर जागरूकता अभियान के लिये इन्डियन क्रिकेटर भुवनेश कुमार को युथ आइकन बनाया है।भुवी ने जनता से अपना नैतिक मत का प्रयोग करने की अपील किया है।
डीएम की यह नई पहल अन्य जिलो के लिये के लिए भी एक नजीर साबित होगी

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | PAK ने फिर तोड़ा सीजफायरः रात 2 बजे से पुंछ में कर रहा फायरिंग, एक जवान शहीद





श्रीनगर.पाकिस्तान ने एक बार फिर सीजफायर का वॉयलेशन किया है। रविवार की रात दो बजे से पुंछ जिले के केजी सेक्टर में फायरिंग हो रही है। इंडियन फोर्सेज की ओर से भी जवाब दिया जा रहा है। बता दें कि भारत की ओर से पीओके में की गई सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान बौखलाया है और लगातार सीजफायर का वॉयलेशन कर रहा है। एक जवान शहीद...

  • - पाकिस्तान की ओर से की जा रही फायरिंग का इंडियन आर्मी जवाब दे रही है।
  • - पर सोमवार तड़के गोलीबारी में आर्मी का एक जवान शहीद हो गया।
  • - जम्मू-कश्मीर की पुलिस के मुताबिक, एलओसी में पुंछ पर क्रॉस-बॉर्डर फायरिंग में गोली लगने से एक जवान शहीद हुआ है।
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद करीब सौ बार सीजफायर तोड़ चुका है पाक
  • - 18 सितंबर को आतंकियों ने उड़ी आर्मी बेस पर हमला किया था।
  • - 28 और 29 सितंबर की रात को भारत ने एलओसी पार सर्जिकल स्ट्राइक की। 
  • - सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान 100 बार सीजफायर वॉयलेशन कर चुका है।
  • - सीजफायर वॉयलेशन में 18 लोगों की मौत हुई है। 90 के करीब जख्मी हुए हैं।


बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | स्मॉग से दिल्ली में हाहाकार, केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक







नई दिल्ली । दीपावली के तकरीबन सप्ताह भर बीतने के बाद हवा में प्रदूषण का स्तर सामान्य से कई गुना ज्यादा दर्ज़ किया गया है।  दीपावली के तकरीबन सप्ताह भर बीतने के बाद हवा में प्रदूषण का स्तर सामान्य से कई गुना ज्यादा दर्ज़ किया गया है। इससे दिल्ली और एनसीआर में सांस लेना बेहद मुश्किल हो चुका है। पर्यावरण विशेषज्ञों की मानें तो दिल्ली और एनसीआर में धुंध की मोटी परत छाई है। रविवार सुबह भी दिल्ली-एनसीआर में स्मॉग छाया हुआ है। लोगों को सांस लेने में परेशानी तो हो रही है, साथ ही सड़कों पर विजिबिलिटी की भी समस्या पेश आ रही है। आज सुबह दिल्ली के धौला कुआं इलाके में स्मॉक रहा। लोगों के सड़कों पर ज्यादा दिक्कत आ रही है। एक ओर सांस लेने में परेशानी हो रही है, तो वहीं विजिबिलिटी कम होने से वाहन चालक परेशान नजर आए। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस मुद्दे पर आज दोपहर कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है।   

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | पंकज उधास की स्वर लहरियों पर डूबते- उतराते रहे श्रोता





बदायूँ | मशहूर शायर शकील बदायूंनी और कवि डॉ. बृजेंद्र अवस्थी की सरजमीं पर आए प्रख्यात गजलकार पंकज उधास का दो घंटे का मेगा शो हिट रहा। स्मृति वंदन महोत्सव- 2016 की ओर से यूनियन क्लब में आयोजित पंकज उधास नाइट में उन्हें देखने- सुनने के लिए भारी भीड़ उमड़ी। जब उधास ने अपने दिलकश अंदाज में एक के बाद अपनी लोकप्रिय गजलें पेश कीं, तो श्रोता झूम उठे। ऑन डिमांड पेश किए गए उनके सुपरहिट फिल्मी गीत.. चिट्ठी आई है, आई है, चिट्ठी आई है... पर तो श्रोताओं ने खड़े होकर तालियां बजाईं।
शुक्रवार रात को तय समय से करीब ढाई घंटे देर से कार्यक्रम शुरू हुआ। पंकज उधास के पहुंचते ही वहां मौजूद दर्शकों ने उनका तालियां बजाकर स्वागत किया। काले रंग की शेरवानी पहने उधास जब मंच पर पहुंचे तो उनकी तस्वीर को अपने मोबाइल में कैद करने की होड़ सी लग गई। जब गजलों का दौर शुरू हुआ तो श्रोता वाह- वाह करने से खुद को रोक नहीं सके। एक के बाद एक फरमाइश होती रहीं। गीत-गजलों से सजी शाम में सुधी श्रोता डूबते-उतराते रहे। जब उधास ने बड़ी महंगी हुई शराब थोड़ी- थोड़ी पिया करो... गजल सुनाई तो एक खास वर्ग के श्रोताओं ने उसका भरपूर लुत्फ उठाया।
उधास ने प्यार का पहला, इश्क का दूसरा और मुहब्बत का तीसरा लफ्ज अधूरा है..., चांदी जैसा रंग है तेरा है सोने जैसे बाल..., न कजरे की धार, ना मोतियों के हार..., आज फिर तुम पर प्यार आया है... जैसी लोकप्रिय गजलें सुनाईं तो श्रोता झूम उठेे। समापन ...घुंघरू टूट गए, गजल के साथ हो गया। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष मधु चंद्रा, सीडीओ अच्छेलाल सिंह यादव, एडीएम प्रशासन एके श्रीवास्तव, खालिद परवेज, भानुप्रकाश भानु, अनुपम गुप्ता, अमित यादव, संजीव गुप्ता आदि तमाम लोग मौजूद रहे।

...और खुद को रोक नहीं सके
बदायूं। काव्य रसिक डीएम पवन कुमार भी खुद को फरमाइश करने से रोक नहीं सके। उनकी डिमांड पर उधास ने दर्द की बारिश सही मद्धम, जरा आहिस्ता चल... गजल सुनाई। उनके साथ एसएसपी महेंद्र कुमार समेत अधिकांश अधिकारियों ने मय परिवार गीत- गजलों का आनंद लिया।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार |बदायूँ, हेलमेट न पहनने पर कटेगा चालान




बदायूँ  | आमजन को सड़क सुरक्षा नियमों की जानकारी देने और दुर्घटनाओं में कमी लाने के उद्देश्य के चलते नवंबर में यातायात माह मनाया जाएगा। नियमों का उल्लंघन करने वालों से वाहन का चालान काटते हुए जुर्माना भी वसूला जाएगा।
शनिवार को यातायात माह का शुभारंभ के लिए पुलिस लाइन परिसर से स्कूली बच्चों की जन जागरुकता रैली भी निकाली गई। डीएम पवन कुमार और एसएसपी महेंद्र यादव ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। पुलिस लाइन से निकली रैली इंदिरा चौक, कश्मीरी चौक, लावेला चौक, अंबेडकर पार्क होती हुई वापस पुलिस लाइन प्रांगण पर रूकी। इस दौरान जनता को सड़क सुरक्षा के नियमों के प्रति जागरुक किया। इससे पूर्व डीएम कुमार ने बच्चों को बताया कि असावधानी के कारण ही विभिन्न प्रकार की दुर्घटनाएं घटित होती हैं, इसलिए यातायात के नियमों की जानकारी होना अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि तमाम नाबालिग बच्चें दोपहिया वाहन चलाते देखे जाते हैं। उनके अभिभावकों को चाहिए कि वह छोटे बच्चों को वाहन न चलाने दें। उन्होंने कहा कि जान है तो जहान है, इसलिए वाहन चलाने से पूर्व हेलमेट पहनने और लाइट, ब्रेक आदि जरूर चेक किए जाएं।
एसएसपी महेंद्र कुमार ने कहा कि बिना हेलमेट पहनने पर आम जनता का तो चालान कर जुर्माना वूसला जाता है, लेकिन पुलिस कर्मियों पर कोई कार्रवाई नहीं होती। उन्होंने कहा कि अब बिना हेलमेट के दो पहिया वाहन चलाने पर पुलिस कर्मियों से जुर्माना वसूल करने के साथ ही चालान भी किया जाएगा। बच्चे देश का भविष्य होते हैं, इसलिए उन्हें अपने जीवन से खिलवाड़ न करते हुए यातायात नियमों का पालन अवश्य करना चाहिए। इस अवसर पर एसपी आरए संजय राय, सीओ सिटी आनंद कुमार पांडे, सीओ दातागंज श्योराज सिंह समेत अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | साइकिल रेस में रिंकी और शशिबाला अव्वल





बदायूं में चल रहे स्मृति वंदन महोत्सव के तहत शनिवार को जिला ओलंपिक संघ की देखरेख में साइकिल रेस प्रतियोगिता में शामिल छात्राओं ने जीत के लिए पूरा दमखम लगा दिया। राजकीय मेडिकल कॉलेज के गेट तक सबसे तेज साइकिल दौड़ा कर रिंकी और शशिबाला ने प्रथम स्थान पाया। विजेताओं को एसपीआरए संजय शर्मा और सीओ प्रमोद यादव ने पुरस्कृत किया।
डॉ. निहालउद्दीन की स्मृति में साइकिल रेस सुबह में बाइपास से शुरू हुई। एसपीआरए संजय शर्मा, सीओ प्रमोद यादव और ओलंपिक संघ के जिलाध्यक्ष राजन मेंदीरता ने हरी झंडी दिखाकर प्रतिभागियों को रवाना किया। जूनियर और सीनियर वर्ग में करीब 80 छात्राओं ने हिस्सा लिया। राजकीय मेडिकल कॉलेज परिसर तक चल रेस के दौरान प्रतिभागियों में गजब का उत्साह नजर आया। ओलंपिक संघ के पदाधिकारियों के साथ भदवार गर्ल्स इंटर कॉलेज की शिक्षिकाओं ने प्रतिभागियों का हौसला भी बढ़ाया।
सीनियर वर्ग में रिंकी ने प्रथम स्थान पाया। जसोदा द्वितीय और मानसी को तृतीय स्थान मिला। जूनियर वर्ग में शशिबाला प्रथम, नेहा बी द्वितीय और मीनाक्षी ने तृतीय स्थान पाया। समापन पर एसपीआरए और सीओ ने विजेता छात्राओं को प्रमाण पत्र और शील्ड भेंट की। इस मौके पर डॉ. वसीमउद्दीन, सुभाषचंद्र मिनोचा, हनी सपरा, किशनचंद्र शर्मा, डॉ. नईमउद्दीन, जयपाल थरेजा, रामदास यादव, चांद मोहम्मद, इकबाल, सुजाता माथुर, अनमात खांन, स्मृति वंदन के सचिव भानुप्रकाश यादव, मीरा, प्रियंका, दीक्षा छाबड़ा और यति वार्ष्णेय आदि मौजूद रहीं।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | पिपरौल न्याय पंचायत की टीम ओवरऑल चैंपियन






हरबिलास गोयल इंटर कॉलेज के मैदान पर चल रही प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों की ब्लॉक स्तरीय मिनी खेलकूद प्रतियोगिता का शनिवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम की धूम के साथ समापन हो गया। दौड़, कबड्डी, खो-खो समेत कई प्रतियोगिताओं में प्रतिभागियों ने शानदार प्रदर्शन किया। पिपरौल न्याय पंचायत के खिलाड़ियों को ओवरऑल चैंपियन घोषित किया गया। विजेताओं को खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) समेत शिक्षक नेताओं ने पुरस्कृत किया।
दूसरे दिन खेलकूद प्रतियोगिता की शुरूआत बीईओ लालबाबू द्विवेदी की देखरेख में शुरू हुई। उच्च प्राथमिक स्तर पर एक सौ मीटर की दौड़ में पंकज प्रथम, वीरपाल द्वितीय, नेमसिंह तृतीय, दो मीटर दौड़ में अमन कुमार प्रथम, परवेज सलमानी द्वितीय, सूर्यकांत तृतीय, चार मीटर की दौड़ में राय सिंह प्रथम, करननाथ द्वितीय, प्रद्युम्न तृतीय, छह मीटर की दौड़ में शिवराज प्रथम, नेमसिंह द्वितीय और रूपचंद्र को तृतीय स्थान मिला। लंबीकूद में करननाथ प्रथम, राय सिंह द्वितीय, परवेज तृतीय, ऊंची कूद में करननाथ प्रथम, ओमकार द्वितीय, पंकज तृतीय रहा। खो-खो में करननाथ और कबड़डी में सुखवीर की टीम विजेता रही।
गोला फेंक में नेमसिंह प्रथम, रूपचंद्र द्वितीय, अवनेश तृतीय, चक्का फेंक में अनिल कुमार प्रथम, नेमिसिंह द्वितीय, वीरपा तृतीय रहा। बालिका वर्ग की एक सौ मीटर की दौड़ में छाया प्रथम मिथलेश द्वितीय, तेजश्री तृतीय, दो मीटर की दौड़ में शालू प्रथम, रोशनी द्वितीय, काजल तृतीय, चार मीटर की दौड़ में रूपा प्रथम, फूलवती द्वितीय, मीनाक्षी तृतीय, छह सौ मीटर की दौड़ में राधा प्रथम, फूलवती द्वितीय और विनीता तृतीय रही। लंबीकूद में साक्षी प्रथम, राधा द्वितीय, मीनाक्षी तृतीय, ऊंची कूद में सरिता प्रथम, साक्षी द्वितीय, खो-खो में पूजा की टीम और कबड्डी में विनीता की टीम ने पहला स्थान पाया। चक्का फेंक में रिंकी और गोला फेंक में सरिता को पहला स्थान मिला।
प्राथमिक स्तर पर 50 मीटर की दौड़ में राजकुमार प्रथम, प्रदीप कुमार द्वितीय, जयनंदन तृतीय, एक सौ मीटर की दौड़ में अवनेश कुमार प्रथम, संदीप द्वितीय, रामकिशोर तृतीय, दो सौ मीटर की दौड़ में अवनेश प्रथम, जयनंदन द्वितीय, मोरपाल तृतीय रहा। लंबीकूद में अरमान प्रथम, जितेंद्र द्वितीय, जैनेंद्र तृतीय रहा। बालिका वर्ग में 50 मीटर की दौड़ में संगीता प्रथम, अंजलि द्वितीय, नीलम तृतीय, एक सौ मीटर की दौड़ में अंजलि प्रथम, निकिता द्वितीय और अनीता तृतीय रही। न्याय पंचायत पिपरौल चैंपियन रहा। दहेमू दूसरा और बुटला को तीसरा स्थान मिला। विजेताओं को लालबाबू द्विवेदी, राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शिक्षक जगदीश चंद्र पांडेय और मोहम्मद असरार अहमद ने पुरस्कृत किया। इस मौके पर गोपाल शर्मा, संजय गुप्ता, कमल यादव, अरविंद दीक्षित, सुशील गुप्ता और परमवीर सिंह आदि मौजूद थे। 

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | जिले में तीन दिन होगी अतिरिक्त बिजली कटौती






 बदायूँ, | जिले को तीन दिन अतिरिक्त बिजली कटौती का सामना करना होगा। छह नवंबर से आठ नवंबर तक रोज दिन में आठ से 12 बजे तक बिजली कटौती की जाएगी। ऐसा अनुरक्षण कार्य के चलते होगा। अनुरक्षण का काम पूरा होने के बाद लो वोल्टेज और ट्रिपिंग की समस्या से छुटकारा मिल लाएगा। बदायूं के साथ बिजली कटौती संभल जिले के बबराला में भी की जाएगी।
विद्युत वितरण खंड शनिवार को उसावां, बिसौली, बिल्सी, उझानी और शहर के साथ संभल के बबराला में अनुरक्षण का काम कराएगा। काम तीन दिन तक चलेगा। इस दौरान दिन में आठ बजे से 12 बजे तक बिजली कटौती की जाएगी। अनुरक्षण के चलते जिले के ज्यादातर इलाकों में तीन दिन तक बिजली कटौती होगी। विद्युत वितरण खंड द्वितीय के अधिशासी अभियंता छैल बिहारी ने बताया कि जिला मुख्यालय को 24 और देहात इलाकों को 18 घंटे तक बिजली देने के लिए विभाग यह तैयारी कर रहा है। काम पूरा होने के साथ ट्रिंपिंग और लो वोल्टेज की समस्या से  निजात भी मिलेगी।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | मौसम में बदलाव होने से दिन भर छाई धुंध





शुक्रवार तक साफ रहे मौसम में शनिवार सुबह से अचानक धुंध छा गई। इससे मौसम बदल गया। मौसम में बदलाव से सर्दी में मामूली इजाफा हो गया, लेकिन लोगों को वाहन चलाने दिक्कत महसूस हुई। डॉक्टरों के मुताबिक यह धुंध लोगों के काफी खतरनाक है। इससे सांस के मरीजों, त्वचा रोगों और आंखों के लिए खतरनाक है। मौसम वैज्ञानिक इसे पश्चिम बंगाल में आई तूफानी बारिश और बादल छाने की वजह से मान रहे हैं।
शुक्रवार रात तक मौसम साफ रहा। शनिवार सुबह चार बजे के करीब से धुंध छानी शुरू हो गई। इससे लोगों को सड़कों पर वाहन चलाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। दिन खिलने के साथ लोगों को उम्मीद बढ़ी कि धूप के साथ धुंध कम हो जाएगी, जबकि हुआ इसके उलट। दिन चढने के साथ ही धुंध भी बढ़ती गई। शाम तीन बजे के धुंध काफी बढ़ गई। सूर्य ढलने के साथ ही धुंध काफी बढ़ी नजर आई। डॉक्टरों के मुताबिक पर्यावरण प्रदूषण का सस्पेंडेड पार्टीकुलेट मैटर (एसपीएम) बढ़ने की वजह से ऐसा हो रहा है, जिससे लोगों को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही है। साथ ही आंखों में जलन और त्वचा में जलन की शिकायत भी सामने आईं। वहीं, मौसम वैज्ञानिक इसे बादल छाने और पश्चिम बंगाल में तूफानी बारिश की वजह से मान रहे हैं।


बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | मिनी कुंभ में अश्लीलता परोसने वाले कार्यक्रम होंगे प्रतिबंधित





ककोड़ा   | मिनी कुंभ के नाम से विख्यात मेला ककोड़ा इस बार अलग अंदाज में दिखाई देगा। लोगों की आस्था और श्रद्धा का ध्यान रखते हुए अश्लीलता परोसने वाले कार्यक्रमों पर पूर्ण पाबंदी लगाई गई है। स्नान करने वालों की सुरक्षा के लिए पहली बार राष्ट्रीय आपदा मोचल बल(एनडीआरएफ) की टीम को भी बुलाया गया है। साथ ही एलोपैथी के अलावा आयुर्वेदिक, यूनानी और होम्योपैथिक के भी अस्थाई चिकित्सालयों की स्थापना कराई जा रही है।
शनिवार को बरेली मंडल के आयुक्त प्रमांशु और डीआईजी आशुतोष कुमार तैयारियों का जायजा लेने के लिए मेला स्थल पहुंचे। जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ गहन समीक्षा की।
आयुक्त ने स्पष्ट आदेश दिए कि पॉलीथीन, जुआ, मांस, मदिरा पर पूर्ण रोक लगाई जाए। वहीं, अश्लीलता परोसने वाले कार्यक्रमों पर भी पूर्ण प्रतिबंध हो। उन्होंने मेला स्थल को खुले में शौच मुक्त रखने पर विशेष ध्यान देने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि मेले मेें कोई भी खाली स्थान ऐसा नहीं होना चाहिए, जहां पर्याप्त रोशनी न हो। अग्निशमन वाहनों की समुचित व्यवस्था के भी निर्देश दिए। सफाई और जनरेटर व्यवस्था दुरुस्त रखने के निर्देश दिए।
डीआईजी आशुतोष कुमार ने सुरक्षा कर्मियों के पास ड्रेगन लाइट की व्यवस्था रखने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि गंगा नदी में बल्लियों और रस्से के माध्यम से बैरीकेडिंग कराने, खतरे के संकेत और साइन बोर्ड लगाए जाए। उन्होंने एसओ कादरचौक, मेला पुलिस अधिकारी रुकुम पाल सिंह को हिदायत दी है कि मेला अवधि में विशेष सर्तकता बरती जाए।
डीएम पवन कुमार ने आयुक्त को अवगत कराया कि मेले में पहली बार बीएसएनएल का अस्थाई टावर की स्थापना के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। सीसीटीवी कैमरे की डिस्प्ले देखने के लिए एक नोडल अधिकारी भी नामित कर दिया गया है। मेला परिसर में 350 हैंडपंप और पानी के टैंकरों की व्यवस्था की गई है। दो सौ अस्थाई शौचालयों की स्थापना के साथ ही आठ मोबाइल शौचालय भी लगाए जाएंगे। एसएसपी महेंद्र यादव ने 13 व 14 नवंबर को मुख्य स्नान होने के कारण विशेष सतर्कत रखने के कहा। पार्किंग व्यवस्था भी सुदृढ़ रखने के लिए कहा। इससे पूर्व मंडलायुक्त प्रमांशु और डीआईजी कुमार ने मां गंगा का पूजन किया।
इस दौरान सीडीओ अच्छे लाल सिंह यादव, एडीएम प्रशासन अजय कुमार श्रीवास्तव तथा एसपी आरए संजय राय समेत अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

लाउडस्पीकर से दी जाएगी चेतावनी
कादरचौक। आयुक्त ने कहा कि गंगा नदी में मोटरबोट लगाकर लाउडस्पीकर से गहरे पानी के संबंध में चेतावनी के लिए निरंतर ऐलान कराने के लिए कहा। बताया कि सभी जिला स्तरीय अधिकारियों का यह दायित्व है कि उनके कार्यक्षेत्र के बाहर भी यदि कोई कार्य है तो भी संबंधित अधिकारी तक उसकी सूचना अवश्य दी जाए। जिससे मेले में किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न होने पाए।

पंचायती राज मंत्री करेंगे उद्घाटन
कादरचौक। मेला ककोड़ा का उद्घाटन 12 नवंबर को किया जाएगा। एएमए हरिपाल सिंह यादव ने बताया कि उद्घाटन के लिए पंचायती राज मंत्री रामगोविंद चौधरी तथा सांसद धर्मेंद्र यादव करेंगे। अन्य विधायक, नेता भी शिरकत करेंगे।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | मेंथा को लेकर मारपीट में दुकानदार समेत छह लोग घायल






कादरचौक | पुरानी अनाज मंडी में मेंथा ऑयल बेचने को लेकर किसानों और दुकानदार के बीच कहासुनी ने उस वक्त उग्र रूप ले लिया जब लाठी-डंडे निकल आए। दुकानदार और उसके भाई का सिर फूट गया। दूसरे पक्ष से ही चार सगे भाई लहूलुहान हो गए। दोनों पक्ष ने एक-दूसरे लूटपाट का भी आरोप लगाया। पुलिस ने घायलों का मेडिकल कराया है। घटना की वजह से मंडी में भगदड़ मच गई।
मारपीट की घटना शनिवार दोपहर की है। कादरचौक थाना क्षेत्र के गांव धर्मीनगला निवासी दिनेश शर्मा और संजू मेंथा ऑयल बेचने नवनीत वार्ष्णेय उर्फ बंटी (25) के प्रतिष्ठान पर पहुंचे। रेट तय होने के बाद जीएलसी को लेकर दुकानदार और विक्रेताओं में कहासुनी हो गई। बकौल बंटी- संजू के साथ पांच-छह लोग थे। उन्होंने लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। बचाव में बंटी का छोटा भाई डब्बू आगे बढ़ा तो वह भी घायल हो गया। दूसरी तरफ से संजू (26), दिनेश (50), सर्वेश कुमार (60) और  नन्हेलाल (45) घायल हो गए। ये चारों सगे भाई हैं। संजू की मानें तो उन्हें दबोच कर पीटा गया।
सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक दोनों पक्ष के घायल अस्पताल पहुंच चुके थे। पुलिस ने अपनी मौजूदगी में ही दोनों पक्ष के घायलों का मेडिकल कराया। घायलों में बंटी के सिर में गंभीर चोट बताते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। संजू और बंटी ने एक दूसरे पर लूटपाट का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट लिखाने के लिए कोतवाली में तहरीर भी दे दी है। कोतवाल गोपीचंद्र यादव ने बताया कि झगड़ा मामूली बात पर हुआ। लूटपाट के आरोप गलत हैं। उधर, मारपीट की घटना की वजह से पुरानी में भगदड़ के साथ काफी देर तक अफरातफरी का माहौल रहा।

बंटी के समर्थन में जुटे मेंथा व्यापारी
उझानी। मारपीट में दुकानदार नवनीत उर्फ बंटी के घायल होने की भनक लगते ही संजीव साहू की मौजूदगी में मेंथा व्यापारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंच गए। उन्होंने घटना की जानकारी करने के बाद पुलिस से भी बात की। बताया कि दुकानदार का कोई दोष नहीं है। पुलिस ने उन्हें जांच कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | ट्यूशन से लौट रहे पांच छात्रों पर चढ़ी डीसीएम





बदायूँ | मुरादाबाद-फर्रुखाबाद हाईवे पर अलापुर थाने के कस्बा म्याऊं में ट्यूशन से लौट रहे साइकिल सवार पांच छात्रों को तेज रफ्तार डीसीएम वाहन ने अपनी चपेट में ले लिया। गोंडा से केला लेकर फरीदाबाद जा रही डीसीएम से हुए हादसे में एक छात्र की मौके पर मौत हो गई। चार गंभीर घायल हो गए। गांव के लोगों ने डीसीएम को मय चालक पकड़ लिया। इसके बाद चालक सूर्य मणि निवासी गोंडा की जमकर धुनाई कर दी और हेल्पर कुंज बिहारी को भी पकड़ा गया है। हादसे के बाद रोड पर जाम भी लग गया। गंभीर घायल दो छात्रों को बरेली रेफर किया गया है। पुलिस ने चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। हादसा शनिवार सुबह करीब सात बजे हुआ।
उसावां थाना के गांव कैलोथा निवासी ओमेंद्र (16) पुत्र वीरेंद्र सिंह, सचिन (16) पुत्र ग्रीश, धर्मेंद्र (17) पुत्र नन्हे लाल, अमित (16) पुत्र रतनपाल और अजय प्रताप (16) पुत्र दाताराम म्याऊं के शिवाजी इंटर कॉलेज में कक्षा 11 के छात्र हैं। शनिवार सुबह यह सभी छात्र म्याऊं में ट्यूशन पढ़ने आए थे। यहां से सभी वापस लौट रहे थे। रास्ते में मुरादाबाद-फर्रुखाबाद हाईवे पर किसान ग्रामीण बैंक के पास बदायूं की ओर से आ रही डीसीएम ने इन साइकिल सवार छात्रों को रौंद दिया। हादसे में ओमेंद्र की मौके पर मौत हो गई। बाकी छात्र जख्मी हो गए। कस्बे के लोगों ने डीसीएम चालक को पकड़ लिया। उसकी जमकर धुनाई कर दी।
हादसे के बाद रोड पर जाम लग गया। हालात बिगड़ने पर दातागंज, उसहैत, उसावां, हजरतपुर पुलिस के साथ पीएसी और क्यूआरटी को भी मौके पर बुला लिया गया। पुलिस ने जख्मी छात्रों को इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया। किसी तरह से डीसीएम चालक को लोगों के चंगुल से बचाया गया। मामले में डीसीएम चालक के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। दो गंभीर छात्रों को बरेली रेफर किया गया है। ओमेंद्र के शव का पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया है।
हाईवे पर धुंध बनी हादसे की वजह

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | आज का सुविचार 06/11/216






  • यदि कोई दुर्बल मानव तुम्हारा अपमान करे तो उसे क्षमा कर दो, क्योंकि क्षमा करना ही वीरों का काम है, परंतु यदि अपमान करने वाला बलवान हो तो उसको अवश्य दण्ड दो | 
  •  क्षमा से क्रोध को जीतो, भलाई से बुराई को जीतो, दरिद्रता को दान से जीतो और सत्य से असत्यवादी को जीतो 
  •  दानी कभी दुःख नहीं पाता, उसे कभी पाप नहीं घेरता |
  •  कोई इन्सान दो आदमियों की एकनाथ खिदमत नहीं कार सकता; चाहे प्रभु की उपासना कर लो, चाहे कुबेर की |
  •  न्याययुक्त व्यवहार करना, सौंदर्य से प्रेम करना तथा सत्य की भावना को ह्रदय में धारण करके विनयशील बने रहना ही सबसे बड़ा धर्म है |
  •  दोष निकलना सुगम है, उसे अच्छा करना कठिन | 
  •  गुरु का भी दोष कह देना चाहिए |
  •  धीरज सारे आनंदों और शक्तियों का मूल है |
  •  धैर्य कडुवा होता है, पर उसका फल मीठा होता है |
  •  असफलता नहीं, अपितु निकृष्ट ध्येय ही अपराध है | 
  •  महान ध्येय का मौन में ही सृजन होता है | 

बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार | आज का राशिफल 06/11/2016




आज का राशिफल


  • मेष राशि
  • स्वामी – मंगल
  • अराध्य देव – श्री गणेशजी
  • तत्व – अग्नि
  • नाम के पहले अक्षर – अ, ल, इ
  • शुभ रत्न – मूंगा
  • शुभ रुद्राक्ष – तीन मुखी

मेष राशि के जातक जन्म से ही नेतृत्व में निपुण होते है. प्रायः ऊर्जा और अति- उत्साह से सभर रहते है. हालाँकि स्वच्छ प्रकृति के मगर अधिक आत्म केंद्रित रहते है. किसी भी कार्य को योजनापूर्वक करने में माहिर हैं. संघर्ष से उचित पद, इज्जत और नाम कमाते है. किसी को अपने पक्ष में खींचने में निपुण है. जो लोग आपके अनुसार कार्य नहीं करते उनके प्रति आपकी धारणा नकारात्मक रहती है. किन्तु मेष राशि के जातक जिन पर प्रसन्न हो जाते हैं उन पर जान भी न्योछावर कर देते हैं.


  • वृषभ राशि
  • स्वामी – शुक्र
  • अIराध्य देव – कुलस्वामिनी
  • तत्व – पृथ्वी
  • नाम के पहले अक्षर – ब, व और ऊ
  • शुभ रत्न – हीरा
  • शुभ रुद्राक्ष – छह मुखी रुद्राक्ष

वृषभ राशि के जातकों का स्वभाव गंभीर, स्थिर और व्यव्हार कुशल रहताहै. सौंदर्य से प्रेम करने वाले और शिष्टप्रिय होते है. पुराने विचारों में मानते है. धन और नाम हासिल करते हैं. अपने पुराने विचारों की वजह से लोगों से उंच नीच रहती है. प्रभावपूर्ण वाणी आपकी विेषेषता है. सफलता प्राप्त करने के बाद भी लोगों को साथ में रख कर चलना आपकी आदत है. आप भावुक और ह्रदय से सच्चे है. तत्काल लाभ की अभिलाष रखते हैं मगर उपेक्षा के पात्र बनते है.


  • मिथुन राशि
  • स्वामी – बुध
  • अIराध्य देव – कुबेर
  • तत्व – हवा
  • नाम के पहले अक्षर – क, छ, घ
  • शुभ रत्न – पन्ना
  • शुभ रुद्राक्ष – चार मुखी रुद्राक्ष

मिथुन राशि के जातकों में दुसरो की प्रकृति तथा व्यवहार को तीव्रता से समझ लेते हैं. मिलनसार स्वभाव की वजह से बहुत मित्र होते हैं. किसी भी कठिन बात को बुद्धिपूर्वक आसानी से बोल लेते हैं. आकर्षक और मनोरंजक व्यक्तित्व इनकी विशेषता हैं.

किन्तु अंद्रोनी तौर पर शुभ आचार विचार वाले और एकाग्र होते हैं. किन्तु बुरी सांगत को ले कर अपनी प्रतिभा को नुक्सान करते हैं. साथ ही कुछ मित्रों की संगत से मदद भी मिलती हैं. मिथुन राशि के जातक अधिकतम उदार दिल, बलशाली, चतुर तथा भोग विलास में रस रखनेवाले होते हैं.


  • कर्क राशि
  • स्वामी – चन्द्रमा
  • अIराध्य देव – शंकर भगवान
  • तत्व – जल
  • नाम के पहले अक्षर – ड, ह
  • शुभ रत्न – मोती
  • शुभ रुद्राक्ष – दो मुखी रुद्राक्ष

इस राशि के लोग सौन्दर्यवान और घर परिवार से अत्यधिक मोह रखने वाले होते हैं. भावनात्मक रूप से अपने आप को सुरक्षित रहना चाहते है. इसी वजह से अपनी भावनाओं को सही मायने में प्रस्तुत करने से डरते है.

यह राशि वाले रिश्तों और परिवार में रचे रहते हैं. प्रकृति से लोगों को सुरक्षा देने वाले और अन्य लोगो को पालन पोषण देते हैं. जज्जबाती और देशभक्त तथा मातृभक्त रहते हैं. इनकी प्रकृति लोगों की समझ में जल्द नहीं आती. ऊपर से भावनाहीन मगर अंदर से मोम जैसा व्यक्तित्व और प्रेमी स्वभाव रहता हैं.


  • सिंह राशि
  • स्वामी – सूर्य
  • अIराध्य देव – सूर्य भगवान
  • तत्व – अग्नि
  • नाम के पहले अक्षर – म, ट
  • शुभ रत्न – माणिक्य
  • शुभ रुद्राक्ष – एक मुखी रुद्राक्ष

सिंह राशि के जातक किसी के सामने झुकना पसंद नहीं करते. स्वभाव से उत्साही, निर्भयी, क्रोधी, वीर, स्वतन्त्र और कठिन परिस्थितियों में भी विचलित न होने वाले व्यक्ति होते हैं. सन्तोषपूर्ण होने के कारन आर्थिक उन्नति नहीं कर पाते. अकेले रहना अधिक पसंद करते हैं जिसकी वजह से जीवन में कठिनाइयां रहती है. सिंह राशि के जातक अधिकतम अपने शोख़ को अपना पेश बनाते हैं. ह्रदय से आप दूसरों का भला हमेशा चाहते हैं मगर आपका अहंकार आपको दुसरो से जोड़ने में रुकावटें पैदा करता हैं. जन्म से ही आप संचालन और नेतृत्व की शक्तियां रखते हैं.


  • कन्या राशि
  • स्वामी – बुध
  • अIराध्य देव – कुबेर
  • तत्व – पृथ्वी
  • नाम के पहले अक्षर – प, ठ, ण
  • शुभ रत्न – पन्ना
  • शुभ रुद्राक्ष – चार मुखी रुद्राक्ष

कन्या राशि के जातक स्वभाव से अधिक दृढ़ निश्चयी और कुछ अंश तक जिद्दी भी होते हों. एक बार जो सोच लेते है उसे पूरा कर के ही दम लेते हैं. सञ्चालन में कुशल, कलाओं में निपुण और धनी रहते हैं. वाणी में मधुरता, बुद्धिमता, विचारशीलता और व्यवहारिकता इनकी खासियतें हैं. स्वच्छता के अति आग्रही और हर कार्य को व्यवस्थापूर्ण करना चाहते हैं. मेहनती और सफलता को तीव्रता से पाने वाले व्यक्ति हैं. किन्तु सांसारिक जीवन में भाग्यशाली नहीं होते. ह्रदय से रोमांटिक रहते हैं किन्तु भावनाओं को प्रदर्शित करने में विश्वास नहीं रखते. इसकी वजह से प्रेम सम्बन्धो और वैवाहिक सम्बन्धो में सफलता नहीं मिलते.


  • तुला राशि
  • स्वामी – शुक्र
  • अIराध्य देव – कुल स्वामिनी
  • तत्व – वायु
  • नाम के पहले अक्षर – र, त
  • शुभ रत्न – पन्ना
  • शुभ रुद्राक्ष – छह मुखी रुद्राक्ष

तुला राशि के जातक जन्मजात कुशल राजनीतिज्ञ, विचारशील और चतुर होते हैं. स्वभाव संतुलित रहता है और हर वस्तु को सम्पूर्ण समीक्षा और परिक्षण के बाद समझते हैं. आज्ञा के पालक रहते हैं. सौंदर्य और सुघड़ता को बहुत पसंद करते हैं. दूरदर्शिता से भरपूर आपका स्वभाव कार्य क्षेत्र में अच्छी तरक्की करवाता हैं.

वाणी और स्वभाव आनंदित रहने की वजह से लोगों में प्रिय बने रहते हैं. सभी राशियों में अत्यधिक आकर्षण पैदा करने वाला व्यक्तित्व रखते हैं. किन्तु कुछ परिस्थितियों में अत्यधिक हताश हो जाते हैं. निर्णय लेने से पहले आयाम और अंजाम के विषय में अत्यधिक सोचते हैं.


  • वृश्चिक राशि
  • स्वामी – मंगल
  • अIराध्य देव – गणेशजी
  • तत्व – जल
  • नाम के पहले अक्षर – न, य
  • शुभ रत्न – माणिक्य
  • शुभ रुद्राक्ष – तीन मुखी रुद्राक्ष

वृश्चिक राशि के जातक तीक्ष्ण बुद्धि के मालिक होते है. बोले हुए वचन को दृढ़ता से पालनेवाले, थोड़े घमंडी, किसी भी विषय का बारीकी से निरिक्षण करने में निपुण और महत्वकांशी रहते हैं. धार्मिक विचार रखते हैं और हर कार्य को कुशलतापूर्वक करते हैं. अन्य लोगो के स्वभाव, शक्तियों और कमजोरियों को तीव्रता से समझने का गुण रखते हैं. मित्र बनाने के शौकीन और प्रशंसा पाने के अभिलाषी रहते हैं. इनकी दोस्ती जितनी लाभदायी रहती है उतनी ही इनकी दुश्मनी कष्टदायक रहती हैं. मन में जो विचार है उसे प्रस्तुत करने में हिचकिचाते नहीं. स्वभाव से ईर्ष्यालु भी रहते हैं.


  • धनु राशि
  • स्वामी – बृहस्पति
  • अIराध्य देव – दत्तोत्रय
  • तत्व – अग्नि
  • नाम के पहले अक्षर – भ, ध, फ, ढ
  • शुभ रत्न – पुखराज
  • शुभ रुद्राक्ष – पांच मुखी रुद्राक्ष

धनु राशि के लोग शांतिप्रिय, स्पष्टवक्ता, सत्य के आग्रही, मिलनसार, निडर, वफादार और जिज्ञासु रहते हैं. सत्य और ज्ञान की खोज आपकी प्रकृति है. नेतृत्व का कौशल रखते हैं. मौज शौख के शौकीन होते है और जहाँ जाते हैं लोगों के आकर्षण का केंद्र बनते हैं. अपने कौशल्य और स्वभाव से इन्हे दूसरों पर अधिकार जाताना काफी अच्छा लगता है. शौकीन और दूसरों का ख्याल रखने की प्रकृति निजी सम्बन्धो में सफलता दिलाती है. ह्रदय से बहुत दयालु और मदद करने की भावना रखते हैं.


  • मकर राशि
  • स्वामी – शनि
  • अIराध्य देव – शनिदेव, हनुमानजी
  • तत्व – पृथ्वी
  • नाम के पहले अक्षर – ख, ज
  • शुभ रत्न – नीलम
  • शुभ रुद्राक्ष – सात मुखी रुद्राक्ष

मकर राशि वाले धनि और सुन्दर होते हैं. कार्य को अपना जीवन मानते हैं और कार्यस्थल पर समय व्यतीत करना अधिक पसंद करते हैं. मौज शौख में काम रूचि रहती है. इस राशि के लोग दोहरे विचार रखते हैं. अपने लक्ष्य के प्रति सम्पूर्ण सम्भान और प्रयत्नशील रहते हैं. रहस्यों और आध्यात्मिक बातों में रूचि रखते हैं. कार्यों को स्वयं पूरा करने में विश्वास रखते हैं. दूसरों का हस्तक्षेप पसंद नहीं करते. ऊँचे विचार वाले और धन कमाने का अच्छा सामर्थ्य रखते हैं. उपकारों को कभी भूलते नहीं.


  • कुम्भ राशि
  • स्वामी – शनि
  • अIराध्य देव – शनिदेव, हनुमानजी
  • तत्व – वायु
  • नाम के पहले अक्षर – ग, स, श, ष
  • शुभ रत्न – नीलम
  • शुभ रुद्राक्ष – सात मुखी रुद्राक्ष

कुम्भ राशि के लोग अधिकतर परोपकारी और प्रेमी स्वभाव के होते है. किसी पर जल्दी मोहित हो जाते है. परोपकारी होने पर भी किसी के विरुद्ध षड़यंत्र रच सकते है. ह्रदय की बातों को छुपाने में माहिर होते है. कला, संगीत, शिल्प और साहित्य में रूचि रखने वाले हैं. भावनाओं और बातों को गुप्त रखने की वजह से मानसिक और शारीरिक रूप से कष्ट उठाते है. सौंदर्य के पुजारी होते है और आगे बढ़ने की इच्छा हमेशा रखते हैं. जो भी कार्य करते है उसे पुरे दिल से संपन्न करते हैं. किन्तु तीव्र क्रोध आपका सबसे बड़ा अवगुण है.


  • मीन राशि
  • स्वामी – बृहस्पति
  • अIराध्य देव – दत्तोत्रय
  • तत्व – जल
  • नाम के पहले अक्षर – द, च, थ, झ
  • शुभ रत्न – पुखराज
  • शुभ रुद्राक्ष – पांच मुखी रुद्राक्ष

मीन राशि के लोग अत्यंत शांत, सौम्य, करुणामय स्वभाव के और आकर्षक व्यक्तित्य के मालिक हैं. अपनी हर गलती पर माफ़ी मांग लेते हैं. अध्यात्म और ईश्वर भक्ति में लीन रहते हैं. गंभीर और दोहरे स्वभाव के बावजूद भी आपके विचार हमेशा सरल और अच्छे रहते हैं. दूसरों के बारे में इतना अधिक सोचते हैं की दुसरो के दर्द को स्वयं बर्दाश्त कर लेते है. अन्य के लिए अपने खुशियों को त्यागना पसंद करते हैं. गलत और सही के बीच में निर्णय लेने में हमेशा मानसिक रूप से त्रस्त रहते हैं. किन्तु सहानुभूति, बेफिक्र और उदार स्वभाव की वजह से लोगों में प्रिय रहते हैं

zhakkas

zhakkas