: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : ओरछी में लाउडस्पीकर लगाने पर फिर तनाव

ओरछी में लाउडस्पीकर लगाने पर फिर तनाव



 फैजगंज बेहटा थाना क्षेत्र के गांव ओरछी में मंदिर पर लाउडस्पीकर लगाने को लेकर माहौल गर्मा गया। एसडीएम आरडी राम और सीओ केके सरोज ने गांव में पहुंच कर लाउडस्पीकर उतरवा दिया। पुलिस प्रशासन की इस कार्रवाई से ग्रामीण काफी आक्रोशित हैं। पुलिस की इस कार्रवाई के बाद गांव में तनाव की स्थिति और बढ़ गई। तनाव देखते हुए पुलिस और पीएसी को तैनात किया गया है।
मंगलवार की सुबह नवरात्र के मौके पर मंदिर में लाउडस्पीकर लगाकर भजन-कीर्तन चलाए जा रहे थे। मंदिर पर आने वाले श्रद्धालु अपनी भक्ति में विलीन थे इसी दौरान दूसरे समुदाय के लोग वहां पहुंच गए। उन्होंने लाउडस्पीकर का विरोध किया। इस बात पर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। देखते-देखते तनाव बढ़ता चला गया। इसी दौरान किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस गांव पहुंच गई। गांव पहुंचने के बाद एसओ कश्मीर ¨सह यादव ने लाउडस्पीकर उतारने को कहा तो लोग आक्रोशित हो उठे। इस बीच ग्रामीणों और पुलिस के बीच काफी नोकझोंक हुई। मामला बिगड़ता देख एसओ ने अधिकारियों को सूचना दी। सूचना मिलने पर एसडीएम आरडी राम और सीओ केके सरोज भी मौके पर पहुंच गए।
गांव के स्कूल में ही दोनो समुदायों के लोगों को इकठ्ठा किया गया। दोनों पक्षों ने अपनी-अपनी बात रखी। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने मंदिर से लाउडस्पीकर उतरवा दिया। एसडीएम ने लाउडस्पीकर लगाने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी। यहां बता दें कि ईद के मौके पर दोनो समुदायों ने अपने अपने धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर लगवा लिए थे। इस मामले ने काफी तूल भी पकड़ा। जमकर राजनीति भी हुई। जैसे तैसे मामला शांत हुआ। गांव में भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।
दौरा करेगा ¨हदू जागरण मंच
फैजगंज बेहटा थाना क्षेत्र के गांव ओरछी में मंदिर से लाउडस्पीकर उतारने की बात पर ¨हदू जागरण मंच ने एतराज जताया है। ¨हदू जागरण मंच युवा वाहिनी के प्रदेश महामंत्री कुलदीप वाष्र्णेय ने कहा कि रमजान के मौके पर जब ¨हदू समाज को एतराज नहीं है तो दूसरे समुदाय के लोग नवरात्र के मौके पर भजन कीर्तन पर क्यों आपत्ति जता रहे हैं। उन्होंने कहा कि ओरछी गांव के हालात सही नहीं हैं। संगठन वहां का दौरा कर मौजूदा स्थिति से सरकार को अवगत कराएगा। इसमें पुलिस की भूमिका भी संदिग्ध बताई जा रही है। 

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas