: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : भाजपा सांसद विजय कटियार बोले-अयोध्या में हर हालत में बनाएंगे राम मंदिर

भाजपा सांसद विजय कटियार बोले-अयोध्या में हर हालत में बनाएंगे राम मंदिर



21 मार्च को चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजीआई) की तरफ से कहा गया था कि यह धर्म और आस्था से जुड़ा मामला है इसलिए इसको कोर्ट के बाहर सुलझा लेना चाहिए।
बीजेपी सांसद विनय कटियार ने एक बाद फिर राममंदिर मुद्दे को हवा दे दी है। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि हम हर हालत में अयोध्या में राम मंदिर बनाएंगे। विनय कटियार बजरंग दल के संस्थापक और अध्यक्ष हैं और बीजेपी की ओर से राज्यसभा सांसद हैं। योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद कई हिंदू संगठनों ने अयोध्या में राम मंदिर बनाने का मुद्दा उठाया है। हाल ही में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक टीवी चैनल पर चर्चा के दौरान हाथ जोड़कर मुस्लिम समुदाय से विनती कर कहा था, ‘ मुस्लिम भाइयों से करबद्ध प्रार्थना है कि भारत में सामाजिक समरसता बनाए रखने के लिए वे पहल करें।’ हिन्दी न्यूज चैनल आजतक के साथ बातचीत में गिरिराज सिंह ने कहा था कि जब तक मुस्लिम समुदाय ये ना समझ ले कि इस देश के हिंदू और मुसलमान दोनों का एक ही वंशज हैं, तब तक इस मुद्दे का समाधान नहीं हो सकता।
वहीं 18 मार्च को विश्व हिंदू परिषद ने मांग की थी कि केंद्र की भाजपा सरकार अब कानून बनाए और अयोध्या में राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ करे। योगी आदित्यनाथ ने भी अपील करते हुए कहा था कि दोनों पक्ष बातचीत से इस मामले को सुलझाएं।
21 मार्च को चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजीआई) की तरफ से कहा गया था कि यह धर्म और आस्था से जुड़ा मामला है इसलिए इसको कोर्ट के बाहर सुलझा लेना चाहिए। कोर्ट ने इसपर सभी पक्षों को आपस में बैठकर बातचीत करने के लिए कहा था। कोर्ट ने यह भी कहा था कि अगर दोनों पक्षों के बीच बातचीत सफल नहीं होती है तो फिर सुप्रीम कोर्ट दखल देगा। इसके लिए एक सुलह करवाने वाला व्यक्ति नियुक्त करने की भी बात कही जा रही है। हालांकि मामले की अगली सुनवाई 31 मार्च को होगी, लेकिन दोनों पक्षों ने सहमति बनाने की सलाह पर तुरंत अपनी असहमति जता दी थी।
भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा कि मस्जिद तो कहीं भी बनाई जा सकती है। वहीं बाबरी मस्जिद कमेटी के जॉइंट कन्वीनर डॉ. एसक्यूआर इलयास ने कहा था, ‘हम लोगों को सीजीआई की बात मंजूर नहीं है। इलाहाबाद हाई कोर्ट पहले ही अपना निर्णय दे चुका है। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को लगता है कि बातचीत का वक्त अब खत्म हो चुका है।’ उन्होंने बाबरी मस्जिद कमेटी और विश्व हिंदू परिषद के बीच हुई पिछली बातचीत का भी जिक्र किया था जो किसी फैसले पर नहीं पहुंची थी।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas