: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस वालों का बचना होगा मुश्किल

फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस वालों का बचना होगा मुश्किल



नई दिल्ली: जिन लोगों के पास फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस है अब उनका बचना मुश्किल हो जाएगा। ट्रांसपोर्ट मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि अब फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस वाले बच नहीं सकते, क्योंकि अब ई-गवर्नेंस के तहत ड्राइविंग लाइसेंस का इलेक्ट्रॉनिक रजिस्ट्रेशन किया जाएगा। उन्होंने एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि देश में 30 फीसदी ड्राइविंग लाइसेंस फर्जी हैं।
उन्होंने कहा, अब ड्राइविंग लाइसेंस ई-गवर्नेंस के तहत इलेक्ट्रॉनिकली रजिस्टर्ड किए जाएंगे। रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस (क्रञ्जह्र) को ड्राइविंग टेस्ट क्लियर करने वाले शख्स को 3 दिन के भीतर लाइसेंस इश्यू करना होगा।

जानकारी मुताबिक सड़क परिवहन मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आधार कार्ड जरूरी बनाने से जुड़ी महत्‍वाकांक्षी योजना पर काम शुरू कर दिया है। चूंकि ड्राइविंग लाइसेंस जारी करना राज्य का विषय है इसलिए सरकार इस संबंध में कदम उठाने के लिए राज्‍य सरकारों से अनुरोध कर सकती है। माना जा रहा है कि इस साल अक्‍तूबर से यह योजना लागू की जा सकती है।

No comments:

Post a Comment

zhakkas

zhakkas