: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : 01/27/17

लोकतंत्र की पहचान मत, मतदाता और मतदान



मतदाता जागरूकता अभियान के तहत नगर के सभी विद्यालयों के विद्यार्थियों ने बुधवार को रैली निकाली। हजारों की संख्या में पुलिस लाइन ग्राउंड में एकत्र हुए बच्चों की रैली का शुभारंभ एडीएम(वित्त एवं राजस्व) हवलदार सिंह यादव ने हरी झंडी दिखाकर किया। लावेला चौक, रेलवे रोड, इंद्राचौक, कलेक्ट्रेट मार्ग से होते हुए रैली राजकीय इंटर कॉलेज पर आकर सभा में परिवर्तित हुई। डीआईओएस राकेश कुमार ने शपथ ग्रहण कराई। संचालन जीआईसी रनवीर सिंह, जीजीआईसी, इस्लामियां, एसके इंटर कॉलेज, केदारनाथ इंटर कॉलेज, पार्वती आर्य इंटर कॉलेज, भगवान परशुराम इंटर कॉलेज, राजाराम महिला, नगर पालिका कन्या, नगला इंटर कॉलेज के अलावा एनसीसी कैडेट्स का सहयोग रहा। एनएमएसएन दास पीजी कॉलेज में प्राचार्य डॉ. जीएस रावत कहा कि मतदान के दिन अपना वोट अवश्य डालें। डॉ. मनवीर सिंह ने मतदान की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। डॉ. शैलेंद्र कबीर ने आह्वान किया कि, नहीं एक की बात, हमारी और तुम्हारी सबकी हो, अपना-अपना फर्ज निभाएं, जिम्मेदारी सबकी हो। बच्चों ने रैली निकाली भी निकाली। डॉ. एसके सिंह, डॉ. कुमुद रंजन, डॉ. शाहीन बी, डॉ. कंचन, शिखर कुमार मिश्र, शिवम भारद्वाज, महिमा गुप्ता, राहुल द्विवेदी आदि मौजूद रहे। मदर एथीना में शपथ ग्रहण कराई गई। उच्च प्राथमिक विद्यालय मझिया में इंचार्ज प्रधानाध्यापिका गीता सिंह ने शपथ ग्रहण कराई। संगीता रस्तोगी, श्वेता गुप्ता, प्रतिभा सिंह आदि मौजूद रहे। बीआरसी म्याऊं में बीईओ विजय कुमार ने शपथ ग्रहण कराई। कमलेश, सुधीर सिंह, ब्रह्मऋषि आदि मौजूद रहे। प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय बीबीपुर में शपथ ग्रहण कराई। प्रधानाचार्या निर्मला देवी, मुअत्तर हुसैन, सुधा गुप्ता, कंचनलता, सत्यवीर आदि मौजूद रहे। राजकीय पॉलीटेक्निक के विद्यार्थियों ने रैली निकाली। मतदान के लिए प्रेरित किया। ऐस इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी में जागरूकता रैली निकाली। निदेशक रचित गोयल मतदान के महत्व पर प्रकाश डाला। श्रीराम सरस्वती विद्या मंदिर में प्रधानाचार्या कालिका प्रसाद गंगवार, जीजेएस आईटीआई प्रबंधक पूनम भारती ने, पार्वती आर्य कन्या इंटर कॉलेज में प्रधानाचार्या मधु शर्मा ने, गिंदो देवी महिला महाविद्यालय में प्राचार्या डॉ. गार्गी बुलबुल ने राजकीय महाविद्यालय नाधाभूड़ सहसवान में प्राचार्य डॉ. एपी सिंह ने, राजकीय महाविद्यालय में प्राचार्या डॉ. पीके वाष्र्णेय ने शपथ ग्रहण कराई।

गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगी बरेली की तीन छात्राएं


गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में आयोजित परेड में एनसीसी गर्ल्स बटालियन की तीन छात्राओं का चयन हुआ है। जूनियर विंग में आर्मी स्कूल की चैताली और प्रियांशी को गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल किया गया है। सीनियर विंग में साहू राम स्वरूप महिला डिग्री कॉलेज की एनसीसी कैडेट और बरेली कॉलेज में बीए तृतीय की छात्रा नेहा जोशी को शामिल किया गया। यह तीनों छात्राएं 26 जनवरी के समारोह में बरेली का प्रतिनिधित्व करेंगी। यह छात्राएं दिल्ली में आयोजित कैंप में शामिल हैं।

पीएम के रूप में 65 फीसदी लोगों की पसंद बने मोदी, राहुल 10% पर सिमटे




नोटबंदी के बाद के दौर में भी पीएम मोदी की लोकप्रियता बढ़ी है. इंडिया टुडे-
. यह सर्वे नोटबंदी के बाद किया गया.

इस सर्वे में प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता में भी खासा उछाल देखने को मिला. इस बार 65 फीसदी लोगों ने उन्हें प्रधानमंत्री पद के लिए सबसे पसंदीदा उम्मीदवार माना. मोदी की यह लोकप्रियता अगस्त महीने में हुए पिछले सर्वे के मुकाबले 15 फीसदी ज्यादा है. जबकि राहुल गांधी की अगर बात करें, तो सर्वे में शामिल लोगों में से केवल 10 फीसदी ने उन्हें अपनी पसंद बताया है, जबकि 4% लोगों ने सोनिया गांधी को पसंद किया है.

पीएम पद के लिए पसंदीदा उम्मीदवार के मामले में समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह को 1 फीसदी और बीएसपी प्रमुख मायावती को भी 1 फीसदी लोगों ने पसंद किया. वहीं मोदी कैबिनेट में वित्तमंत्री अरुण जेटली को 2 फीसदी लोग, जबकि बीजेपी चीफ अमित शाह और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 1 फीसदी ने अपनी पसंद बताया. इसके अलावा प्रियंका गांधी, अरविंद केजरीवाल और नीतीश कुमार को 2-2 फीसदी लोगों ने पीएम पद के लिए अपना पसंदीदा उम्मीदवार बताया.

उधर पीएम मोदी के खिलाफ तीसरे विकल्प के रूप में 11 फीसदी लोगों ने अरविंद केजरीवाल को अपनी पसंद माना है, जबकि 10 फीसदी लोग नीतीश कुमार की लीडरशिप में तीसरे मोर्चे का बेहतर भविष्य देखते हैं. वहीं पीएम मोदी के विकल्प के तौर पर 13 लोग नीतीश कुमार को अपनी पसंद मानते हैं, जबकि 10 फीसदी लोग केजरीवाल को मोदी के विकल्प के तौर पर देखते हैं.


दुनिया की आठ बड़ी ताकतों में छठे स्थान पर है भारत: अमेरिकी पत्रिका




अमेरिका की विदेश नीति से जुड़ी एक प्रमुख मैगजीन ने साल 2017 के लिए आठ शक्तिशाली राष्ट्रों की सूची में भारत को छठे स्थान पर रखा है. इस सूची में अमेरिका पहले स्थान पर है. इस सूची में चीन और जापान को संयुक्त तौर पर दूसरा स्थान मिला है. इसके अलावा सूची में रूस (चौथे) और जर्मनी (पांचवें) भारत से आगे हैं. ईरान को सातवें जबकि इस्राइल को आठवें पायदान पर रखा गया है. मैगजीन ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की तारीफ की है.
‘द अमेरिकन इंट्रेस्ट’ मैगजीन ने आठ महान वैश्विक ताकतों से जुड़ी अपनी सालाना रिपोर्ट में कहा, ‘जापान की तरह भारत को भी विश्व के शक्तिशाली देशों की सूचियों में अक्सर नजरअंदाज कर दिया जाता है, लेकिन वैश्विक मंच पर इसका स्थान दुर्लभ और उल्लेखनीय है.’ मैगजीन में कहा गया है कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, जहां अंग्रेजी बोलने वाली दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी रहती है. इसके साथ ही भारत एक विविधता से परिपूर्ण तेजी से आगे बढ़ती आर्थिक ताकत है.

हर ताकत चाहता है भारत से सहयोग
पत्रिका के अनुसार भू-राजनीतिक परिप्रेक्ष्य में देखें तो चीन, जापान और अमेरिका सभी अपने एशियाई सुरक्षा ढांचे को लेकर भारत के साथ सहयोग को लेकर उत्सुक हैं. वहीं यूरोपीय संघ और रूस आकर्षक व्यापार और रक्षा समझौतों के लिए नई दिल्ली की तरफ देखते है.

नरेंद्र मोदी की तारीफ
पत्रिका ने अपनी रिपोर्ट में कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आर्थिक सुधारों के आधुनिकीकरण के साथ अपनी क्षमता के उपयोग के जरिये भारत ने चतुराई से इन प्रतिद्वंद्वी शक्तियों से अलग अपनी राह बना ली है.' पत्रिका के मुताबिक नोटबंदी के बाद उत्पन्न आंतरिक समस्याओं और पाकिस्तान के भय के बावजूद भारत ने 2016 में अपने पांव और मजबूती से जमाए हैं.

अमेरिकन इंट्रेस्ट ने अपनी रिपोर्ट में कहा, 'मोदी ने अमेरिका और जापान के साथ नए नौसैनिक सहयोग कायम करने में सफलता हासिल की है और उन्होंने भारतीय सेना को आधुनिक बनाने के लिए रूस, फ्रांस तथा इजराइल के साथ भी कई रक्षा समझौतों पर दस्तखत किए हैं.'

zhakkas

zhakkas