: "width=1100"' name='viewport'/> बदायूँ एक्सप्रेस | तेज रफ़्तार : 02/26/17

घनी बस्ती से शराब की दुकाने हटवाने की मांग





बिल्सी नगर में बंबा चौराहे शिव शक्ति भवन मंदिर के निकट कछला बस स्टैंड, मुख्य बाजार समेत बाईपास मार्ग, बिजनौर हाईवे पर धड़ल्ले से देशी व अंग्रेजी और बीयर की बिक्री सुबह तड़के से लेकर अ‌र्द्धरात्रि तक की जाती है। घनी बस्ती के बीच ठेकों पर शराब बिक्री किए जाने से शराबी मंदिर में पूजापाठ करने वाली महिलाओं से उत्पात मचाते हुए फब्तियां कसते हैं। शराबियों के आतंक से मंदिर जाने वाली महिलाएं युवती परेशान हैं जबकि कई बार सामाजिक संगठनों ने भी प्रशासन से घनी आबादी के बीच से अंग्रेजी व देशी ठेकों की दुकान हटवाए जाने की मांग की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। परेशान नगर के रामौमार यादव, बदन ¨सह, श्यामलाल, रवेंद्र कुमार, अतुल कुमार आदि ने की है।   

हर्ष फायरिंग में महिला और बच्चा घायल





महिला गंभीर, बरेली रेफर, इलाके में तनाव का माहौल

 शहर कोतवाली के मोहल्ला खंडसारी में शनिवार दोपहर एक बारात निकासी के दौरान की गई हर्ष फायरिंग में एक महिला और एक बच्चा जख्मी हो गए। घटना से समारोह में भगदड़ मच गई। चूंकि खंडसारी मोहल्ले में पहले गैंगवार की वजह से गोलियां चल चुकी हैं। इसलिए माहौल तनावपूर्ण हो गया। खबर मिलने पर सीओ सिटी अभिषेक यादव ने मौका मुआयना कर मामले की जानकारी ली। महिला को गंभीर हालत में बरेली रेफर किया गया है।
शहर कोतवाली के मोहल्ला खंडसारी के उमर खयाम के लड़के आसिफ की बारात शनिवार को दोपहर बरेली जा रही थी। घर से बारात निकासी के दौरान पांच-छह लड़के नशे में तमंचों से फायरिंग कर रहे थे। इसी दौरान एक गोली सलीम की 46 वर्षीय पत्नी गुलशार को लग गई। वहीं पास में खड़ा दो साल के बच्चे को भी छर्रे लगे। संवेदनशील इलाके में घटना की सूचना पर कोतवाली पुलिस वहां पहुंच गई। आननफानन में घायल गुलशार को जिला अस्पताल लाया गया। यहां हालत गंभीर होने की वजह से उसे बरेली रेफर कर दिया गया। देर शाम तक रिपोर्ट दर्ज कराने को तहरीर नहीं दी गई थी।

 तनाव से बंद रहे बाजार
अधिकारियों ने एहतियात के तौर पर जिला अस्पताल और मोहल्ले में पुलिस तैनात कर दी। देर शाम तक मोहल्ले में पुलिस तैनात रही। फायरिंग की इस घटना के बाद तनाव के चलते शाम तक मोहल्ले का बाजार भी बंद रहा।

खुशी में फायरिंग पर सुप्रीम कोर्ट की सख्त हिदायत है। खंडसारी मोहल्ले की वारदात गंभीर है। मैने मौका मुआयना कर पूरे मामले में जानकारी जुटाई है। फायरिंग करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
-अभिषेक यादव, सीओ सिटी

पढ़िए, PM मोदी के #MannKiBaat की 10 बड़ी बातें



नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक बार फिर 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए लोगों से अपने विचार साझे किए। पीएम की मन की बात का आज यह 29वां प्रसारण था। इससे पहले 29 जनवरी को पीएम ‘मन की बात’ के जरिए देश की जनता से रू-ब-रू हुए थे। कार्यक्रम में पीएम मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों की तारीफ करते हुए डिजिटल ट्रांजेक्शन के मुद्दे पर बातचीत की।

कार्यक्रम की 10 बड़ी बातें

*इस वर्ष देश में दाल समेत खाद्यान्न का रिकार्ड उत्पादन हुआ है और इसके लिए किसान बधाई के पात्र हैं। किसानों की कड़ी मेहनत से इस वर्ष देश में दो हजार सात सौ लाख टन से भी ज्यादा खाद्यान्न का उत्पादन हुआ है जो आखिरी रिकार्ड से आठ प्रतिशत ज्यादा है। इसके साथ ही करीब दो सौ नब्बे लाख हेक्टेयर भूमि पर भिन्न -भिन्न दालों का भी उत्पादन हुआ

*8 मार्च को पूरा देश विश्व महिला देश मनाता है। ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ आंदोलन तेजी से आगे बढ़ रहा है। 8 मार्च को ‘महिला दिवस’ पर हमारा एक ही भाव है, ”महिला, वो शक्ति है, सशक्त है, वो भारत की नारी है न ज्यादा में न कम में, वो सब में बराबर की अधिकारी है। इसरो में भी महिलाओं ने अहम भूमिका निभाई है जिसकी जितनी प्रशंसा की जाए कम है।

*”जब बेटी के जन्म पर उत्सव का समाचार मिलता है तो आनंद मिलता है। बेटियों के प्रति सोच बदल रही है। बेटी बचाओ एक जानांदोलन बना। तमिलनाडु में बाल विवाह रोकने का काम हुआ।

*ब्लाइंड टी-20 वर्ल्डकप फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को हराते हुए लगातार दूसरी बार चैंपियन बनके देश का गौरव बढ़ाया।

*14 अप्रैल को बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती का पर्व है। बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर का स्मरण करते हुए कम से कम 125 लोगों को ‘भीम एप’ डाउनलोड करना सिखाएं।

*स्वच्छता और शौचालय को लेकर अवरोध तोड़ें। आईएएस अधिकारी ने टॉयलेट पिट साफ किया।

*डिजिटल पेमेंट कालाधन और भ्रष्टाचार को रोकने में अहम है। लकी ग्राहक योजना के तहत दिल्ली के एक 22 साल के ड्राइवर को एक लाख रुपए का ईनाम मिला। डिजिधन योजना के तहत अब तक 100 ग्राहकों को एक-एक लाख रुपए का ईनाम मिला है। अब तक डिजिधन योजना के तहत 10 लाख लोगों को ईनाम दिया गया।

*हमारी युवाओं का विज्ञान के प्रति आकर्षण बढ़ना चाहिए, देश को बहुत सारे वैज्ञानिकों की ज़रूरत है। धीरे धीरे डिजिटल ट्रांजेक्शन बढ़ रहा है, इसे मैं शुभ संकेत मानता हूं.चार-पांच देश ही हैं जिन्हें इंटरसेप्शन टेक्नोलॉजी की महारत हासिल है, भारत के वैज्ञानिकों ने ये करके दिखाया।

*भारत ने रक्षा के क्षेत्र में भी बैलेस्टिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। इसरो के इस सारे अभियान का नेतृत्व, हमारे युवा वैज्ञानिक, हमारी महिला वैज्ञानिकों ने किया। 104 सैटेलाइट अन्तरिक्ष में भेजकर इतिहास रचने वाला भारत दुनिया का पहला देश बना। पिछले दिनों इसरो ने विश्व रिकॉर्ड बनाया, हमारे वैज्ञानिकों ने भारत का सर गर्व से ऊंचा किया है।

*हम फाल्गुन महीने को विदा करने वाले हैं और नए मास चैत्र का स्वागत करने को तैयार बैठे हैं। वसंत के मौसम ने हम सबके जीवन में दस्तक दे दी है।


zhakkas

zhakkas